Gujarat में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़े, होली को लेकर महानगरों में पाबंदियों का ऐलान

   (PTI File Photo)

(PTI File Photo)

गुजरात में पहले से ही राज्य के चार महानगर अहमदाबाद, सूरत, बड़ौदा ओर राजकोट में नाइट कर्फ्यू लागू कर दिया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 26, 2021, 1:30 PM IST
  • Share this:
अहमदाबाद. गुजरात में कोरोना वायरस (Coronavirus Gujarat) की दूसरी लहर के बीच में, सरकार ने होली समारोह और रंगोत्सव कार्यक्रमों पर प्रतिबंध लगा दिया है जबकि राज्य के सबसे बड़े शहर अहमदाबाद की पुलिस ने भी इसे लागू करने के लिए अपने प्रयास तेज कर दिए हैं. अहमदाबाद शहर में धुलेंडी के उत्सव के बारे में पुलिस आयुक्त द्वारा एक अधिसूचना जारी की गई है. घोषणा के अनुसार, पैदल चलने वालों या वाहनों या सार्वजनिक रूप से आने वाले लोगों पर कोई रंग नहीं फेंका जा सकता है और न ही मिट्टी या पानी फेंका जा सकता है. जिस तरह से हर साल होली हुआ करती थी, इस बार उस पर पाबंदी लगा दी गई है.

पुलिस ने होली के सार्वजनिक समारोहों और सामूहिक कार्यक्रमों पर प्रतिबंध लगा दिया है. नोटिफिकेशन में बताया गया है कि होलिका दहन के कार्यक्रम की अनुमति है, लेकिन पुलिस को यह सुनिश्चित करना होगा कि इस दौरान ज्यादा भीड़ इकट्ठा ना हो और ना ही कोरोना संक्रमण के प्रबंधन और नियंत्रण से जुड़े नियमों का उल्लंघन हो.

होलिका दहन में भीड़ इकट्ठा न हो
बता दे कि राज्य के उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने पहले कहा था कि इस वर्ष होली के सार्वजनिक उत्सव की अनुमति नहीं दी जाएगी. धार्मिक महत्व के अनुसार, होली दहन की जा सकती है लेकिन इसमें भीड़ को इकट्ठा न हो.
नियमों का उल्लंघन करने वाले व्यक्तियों के खिलाफ पुलिस धारा 188 के तहत कार्रवाई करेगी. यह घोषणा कोविड -19 की स्थिति को देखते हुए लोगों को इकट्ठा होने से रोकने के लिए अहमदाबाद शहर में लागू की गई है. मिली जानकारी के अनुसार होली दहन कार्यक्रम रात 9 बजे से पहले समाप्त हो सकता है क्योंकि घोषणा के साथ कर्फ्यू लगा दिया गया है.



गौरतलब है कि गुजरात में पहले से ही राज्य के चार महानगर अहमदाबाद, सूरत, बड़ौदा ओर राजकोट में नाइट कर्फ्यू लागू कर दिया गया है. इन शहरों में रात को 9 बजे से लेकर सुबह 6.00 बजे तक सिर्फ और सिर्फ इमरजेंसी सेवाओं को ही अनुमति दी गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज