अपना शहर चुनें

States

Earthquake in Gujarat: गुजरात में आया 5.5 तीव्रता का तेज भूकंप, लोगों में दहशत, CM रूपाणी ने DM से की बात

भुज में भी लोग घरों के बाहर आ गए हैं.
भुज में भी लोग घरों के बाहर आ गए हैं.

Earthquake in Gujarat: नेशनल सेंटर फॉर सीस्‍मोलॉजी के अनुसार गुजरात (Gujarat) में यह भूकंप (Earthquake) रविवार रात 8:13 बजे आया. मुख्‍यमंत्री विजय रूपाणी ने जिलाधिकारियों से इस संबंध में बात की है.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. पिछले दिनों कई बार दिल्‍ली-एनसीआर (Delhi-NCR) में आए भूकंप (Earthquake) के बाद रविवार को गुजरात (Gujarat) में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं. इस भूकंप (Gujarat earthquake) का केंद्र गुजरात के राजकोट से 122 किमी दूर उत्‍तर-उत्‍तर पश्चिम में कच्‍छ के भचाऊ में था. इस भूकंप (Earthquake in Gujarat) की तीव्रता रिक्‍टर स्‍केल पर 5.5 मापी गई है. नेशनल सेंटर फॉर सीस्‍मोलॉजी के अनुसार यह भूकंप रविवार रात 8:13 बजे आया. इस भूकंप में अभी तक किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है.

भूकंप के झटके अहमदाबाद समेत अन्‍य जिलों में भी महसूस किए गए, जिससे लोगों में डर को माहौल रहा. अधिकांश जिलों में भूकंप के झटके महसूस करने के बाद लोग अपने-अपने घरों से बाहर निकल आए.
रात 8:13 बजे आए इस भूकंप के बाद मुख्‍यमंत्री विजय रूपाणी भी तरंत हरकत में आ गए हैं. मुख्‍यमंत्री कार्यालय की ओर से जानकारी दी गई कि मुख्‍यमंत्री ने राजकोट, कच्‍छ और पाटन जिलों के जिलाधिकारियों से बात करके वहां के हालात की जानकारी ली. अहमदाबाद की बात करें तो कोरोना वायरस संक्रमण की मार झेल रहे पूरे शहर में भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं. प्रहलाद नगर इलाके से सामने आई तस्‍वीरों में देखा जा सकता है कि लोगों में दहशत फैली हुई है और वे अपने-अपने घरों से बाहर निकल आए.  इसके अलावा भुज में भी लोग घरों से बाहर निकल आए.

इससे पहले राजस्थान के बीकानेर में शनिवार की सुबह भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए थे. मौसम विभाग के अनुसार सुबह दस बजकर 26 मिनट पर आए भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 4.3 आंकी गई थी. विभाग के अनुसार इस भूकंप का केंद्र भूतल से 35 किलोमीटर नीचे था.



इसके अलावा दिल्‍ली में 8 जून को 2.1 तीव्रता के भूकंप का झटका महसूस किए गए थे. राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र (एनसीएस) कि अनुसार भूकंप का केंद्र दिल्ली-गुरुग्राम सीमा पर स्थित था और यह दोपहर एक बजे धरती के 18 किलोमीटर नीचे आया था. अप्रैल से दिल्ली-एनसीआर में मध्यम और कम तीव्रता के 14 से अधिक भूकंप आ चुके हैं.

यह भी पढ़ें:
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज