गुजरात में बढ़ रहे नए स्ट्रेन के मामले, ब्रिटेन से लौटे चार लोगों में कोरोना वैरिएंट की पुष्टि

कोरोना वायरस का नया स्‍ट्रेन अब भारत में काफी तेजी से पैर पसार रहा है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

New Strain: गुजरात (Gujarat) में अब तक कोरोना वायरस के 2 लाख 45 हजार 772 मामले सामने आ चुके हैं. जिनमें से 4 हजार 703 लोगों की मौत हो चुकी है. राज्य में अभी 9 हजार 563 एक्टिव मामले हैं.

  • Share this:
    अहमदाबाद. कोरोना वयारस (Corona Virus) के नए स्ट्रेन को लेकर हड़कंप मचा हुआ है. सरकार लगातार इसपर लगाम लगाने की कोशिश कर रही है. इसी बीच ब्रिटेन (Britain) से गुजरात लौटे चार लोगों में कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन (Corona Virus New Strain) से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है. राज्य के स्वास्थ्य विभाग की शीर्ष अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी. फिलहाल संक्रमितों के सैंपल लैब टेस्टिंग के लिए भेजे गए हैं.

    उन्होंने यह भी बताया कि ब्रिटेन से अहमदाबाद आए 15 लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी और उनमें नए स्ट्रेन से संक्रमण की पुष्टि करने के लिए उनके नमूने पुणे स्थित एनआईवी भेजे गए हैं, हालांकि जांच के नतीजे अभी तक नहीं आए हैं. प्रधान सचिव (स्वास्थ्य) जयंती रवि ने बताया कि चारों मरीजों को केंद्र के दिशानिर्देश के अनुरूप अहमदाबाद के एसवीपी अस्पताल के आइसोलेशन में भेजा जा चुका है.

    प्रधान सचिव ने संवाददाताओं को बताया, ‘ब्रिटेन से अहमदाबाद आने वाले सभी लोगों की जांच की जा रही है और जिनके संक्रमित होने की पुष्टि हो रही है, उनके नमूने एनआईवी भेजे जा रहे हैं. हमें सूचना मिली है कि चार नमूनों में ब्रिटेन में पाए गये कोरोना वायरस के नए प्रकार से संक्रमण की पुष्टि हुई है.’

    यह भी पढ़ें: कोरोना का नया स्ट्रेन ज्यादा जानलेवा या वैक्सीन होगी प्रभावित? 5 सवालों से समझिए ये कितना खतरनाक

    गुजरात में कोरोना के हाल
    गुजरात में अब तक कोरोना वायरस के 2 लाख 45 हजार 772 मामले सामने आ चुके हैं. जिनमें से 4 हजार 703 लोगों की मौत हो चुकी है. हालांकि, अच्छी खबर है कि कोविड-19 की चपेट में आए 2 लाख 31 हजार 900 मरीज ठीक होकर घर लौट चुके हैं. वहीं, राज्य में अभी 9 हजार 563 एक्टिव मामले हैं. राज्य में अब तक 97 लाख से ज्यादा लोगों की जांच हो चुकी हैं. ये आंकड़े कोविड-19 इंडिया वेबसाइट से लिए गए हैं.

    इस नए म्यूटेटेड वायरस का नाम बी117 (B117) है. यह वायरस पर मौजूद प्रोटीन स्पाइक्स के बदले हुए रूप से संबंधित है, जो इंसान के सेल्स से खुद को जोड़ लेता है. यह म्यूटेशन वायरस को बड़ी दर से सेल को संक्रमित करने के लिए तैयार करता है. बर्मिंघम विश्वविद्यालय के प्रोफेसर एलन मैकनली कहते हैं कि यह एक नए प्रकार का वायरस है, जिसके बार में जैविक रूप से हमें कोई जानकारी नहीं है. इसके असर के बारे में अभी बताया जाना सही नहीं है. जबकि, ब्रिटेन की तरफ से मिली जानकारी बताती है कि यह वायरस 70 फीसदी अधिक तेजी से फैलता है.

    (भाषा इनपुट के साथ)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.