गुजरात स्थित सैनिक स्कूल लड़कियों को दाखिला देकर देश में बनाएगा अनूठा रिकॉर्ड

लड़कियों के लिए 10 प्रतिशत या न्यूनतम 10 सीटें  आरक्षित रहेंगी.प्रतीकात्मक फोटो
लड़कियों के लिए 10 प्रतिशत या न्यूनतम 10 सीटें आरक्षित रहेंगी.प्रतीकात्मक फोटो

Army School in Jamnagar Gujarat: लड़कों की तरह की पढ़ाई के साथ-साथ लड़कियों को भी सैन्य प्रशिक्षण दिया जाएगा और उन्हें सेना में अधिकारी के रूप में शामिल होने के काबिल बनाया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 21, 2020, 12:23 AM IST
  • Share this:
अहमदाबाद: गुजरात के जामनगर जिले में बालाचढ़ी गांव के पास स्थित सैनिक स्कूल पहला ऐसा संस्थान है जिसने शिक्षण सत्र 2021-22 में लड़कियों को दाखिला देने का फैसला लिया है. गौरतलब है कि रक्षा मंत्रालय ने हाल ही में सैनिक स्कूलों में लड़कियों के दाखिले का निर्देश जारी किया है. गुजरात में रक्षा विभाग के जन संपर्क अधिकारी द्वारा जारी विज्ञप्ति के अनुसार, सैनिक स्कूल बालाचढ़ी अगले सत्र से छठी कक्षा से लड़कियों को दाखिला देने की तैयारी में है. लड़कियों के लिए 10 प्रतिशत या न्यूनतम 10 सीटें  आरक्षित रहेंगी. उसमें कहा गया है कि लड़कियों के लिए छात्रावास भी चिह्नित किया गया है.

विज्ञप्ति के अनुसार, ‘‘लड़कों की तरह की पढ़ाई के साथ-साथ लड़कियों को भी सैन्य प्रशिक्षण दिया जाएगा और उन्हें सेना में अधिकारी के रूप में शामिल होने के काबिल बनाया जाएगा.’ पहली बार राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (एनटीए) सैनिक स्कूलों में दाखिले के लिए प्रवेश परीक्षा लेने वाली है. अगले सत्र के लिए ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया शुरू हो गयी है और दाखिले की परीक्षा 10 जनवरी, 2021 को होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज