अपना शहर चुनें

States

PM मोदी की भतीजी ने अहमदाबाद निकाय चुनाव लड़ने के लिए बीजेपी से टिकट का अनुरोध किया

प्रह्लाद मोदी ने भी अपनी बेटी के फैसले का समर्थन करते हुए कहा कि उनके परिवार के सभी सदस्य अपना फैसला लेने के लिए स्वतंत्र हैं.
प्रह्लाद मोदी ने भी अपनी बेटी के फैसले का समर्थन करते हुए कहा कि उनके परिवार के सभी सदस्य अपना फैसला लेने के लिए स्वतंत्र हैं.

PM Modi niece Sonal Modi: सोनल मोदी ने कहा, ‘‘मैंने बोडकदेव वार्ड में आरक्षित महिला सीट से टिकट की मांग है. पहले मैं बीजेपी की सक्रिय कार्यकर्ता थी, लेकिन बच्चों के लालन पालन के लिए मैं कुछ समय दूर रही.’’

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 3, 2021, 10:59 PM IST
  • Share this:
अहमदाबाद. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की भतीजी सोनल मोदी (Sonal Modi) ने अहमदाबाद शहर में आगामी निकाय चुनाव (Ahmedabad Municipal Corporation) लड़ने के लिए गुजरात में सत्तारूढ़ बीजेपी से टिकट की मांग की है. सोनल मोदी ने मंगलवार को कहा कि उन्होंने बीजेपी कार्यकर्ता की हैसियत से ना कि प्रधानमंत्री की रिश्तेदार के तौर पर अहमदाबाद नगर निगम के बोडकदेव वार्ड से टिकट की मांग की है. उन्होंने दावा किया कि वह नामांकन के लिए सभी मापदंडों को पूरा करती हैं.

सोनल मोदी गृहिणी हैं और उनकी उम्र 35 से 40 के बीच है. वह प्रधानमंत्री मोदी के भाई प्रह्लाद मोदी की पुत्री हैं. शहर में प्रह्लाद मोदी की ‘उचित मूल्य की एक दुकान’ है और वह गुजरात उचित मूल्य दुकानदार एसोसिएशन के अध्यक्ष भी हैं. गुजरात बीजेपी ने हाल में घोषणा की थी कि आगामी चुनाव के लिए पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं के रिश्तेदारों के नामों पर विचार नहीं किया जाएगा.

सोनल मोदी ने कहा, ‘‘मैंने बोडकदेव वार्ड में आरक्षित महिला सीट से टिकट की मांग है. पहले मैं बीजेपी की सक्रिय कार्यकर्ता थी, लेकिन बच्चों के लालन पालन के लिए मैं कुछ समय दूर रही.’’ उन्होंने कहा, ‘‘हालांकि बीजेपी ने कुछ मापदंड तय किए हैं, मुझे लगता है कि मैं टिकट के लिए योग्य हूं. मैंने बीजेपी कार्यकर्ता की हैसियत से टिकट देने की मांग की है, प्रधानमंत्री के रिश्तेदार के तौर पर नहीं.’’



उन्होंने कहा, ‘‘अगर मुझे टिकट नहीं मिला तो भी मैं समर्पित कार्यकर्ता के तौर पर पार्टी में सक्रिय रहूंगी.’’ प्रह्लाद मोदी ने भी अपनी बेटी के फैसले का समर्थन करते हुए कहा कि उनके परिवार के सभी सदस्य अपना फैसला लेने के लिए स्वतंत्र हैं. यह भाई-भतीजावाद का मामला नहीं है. मेरे परिवार ने अपने फायदे के लिए कभी नरेंद्र मोदी के नाम का इस्तेमाल नहीं किया. ’’

गुजरात में अहमदाबाद समेत छह नगर निगमों के लिए 21 फरवरी को चुनाव होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज