होम /न्यूज /gujarat /

गुजरातः अमरेली में शेरनी ने 5 लोगों पर किया हमला, वन विभाग की टीम ने पकड़ा, चल रही है जांच

गुजरातः अमरेली में शेरनी ने 5 लोगों पर किया हमला, वन विभाग की टीम ने पकड़ा, चल रही है जांच

गुजरात के अमरेली जिले में शेरनी ने हमला कर दिया. (फाइल फोटो)

गुजरात के अमरेली जिले में शेरनी ने हमला कर दिया. (फाइल फोटो)

डॉ. आराधना साहू ने कहा कि हमें सूचना मिली थी कि जाफराबाद में एक शेरनी ने 5 लोगों पर हमला किया है जिसके बाद हमने इलाके को घेर लिया था. हमारे करीब 50-60 कर्मचारी तैनात थे. हमने कार्रवाई करते हुए शेरनी को पकड़ लिया है.

हाइलाइट्स

अमरेली के जाफराबाद में शेरनी ने हमला कर 5 लोगों को घायल कर दिया.
शेरनी के खतरनाक हमले के बाद घायलों को तुरंत अस्पताल पहुंचाया गया.
वन विभाग की टीम ने शेरनी को पकड़ लिया.

अमरेली. गुजरात के अमरेली जिले में एक शेरनी ने स्थानीय इलाके में घुसकर लोगों पर हमला कर दिया. अमरेली के जाफराबाद में शेरनी ने हमला कर 5 लोगों को घायल कर दिया. घायलों में सागर रक्षक दल के लोग, वन विभागकर्मी और दो अन्य लोग घायल हुए हैं. इस घटना के बाद से क्षेत्र के लोगों में दहशत का माहौल पैदा हो गया है. वहीं इस घटना को लेकर गुजरात के वन्यजीव जूनागढ़ की मुख्य वन संरक्षक डॉ. आराधना साहू ने कहा कि हमें सूचना मिली थी कि जाफराबाद में एक शेरनी ने 5 लोगों पर हमला किया है जिसके बाद हमने इलाके को घेर लिया था. हमारे करीब 50-60 कर्मचारी तैनात थे. हमने कार्रवाई करते हुए शेरनी को पकड़ लिया है. इसके अलावा उन्होंने कहा कि शेरनी के हमला करने की बहुत सारी वजह हो सकती हैं जैसे किसी ने उसको परेशान किया हो या आस-पास के वाहनों के शोर की वजह से उसे अच्छा नहीं लगा हो. हम जांच कर रहे हैं क्योंकि जानवर तब तक हमला नहीं करते जब तक उन्हें खतरा न महसूस हो.

शेरनी के खतरनाक हमले के बाद घायलों को तुरंत अस्पताल पहुंचाया गया. दरअसल, गुजरात के अमरेली जिले में रविवार को एक वन क्षेत्र में शेरनी के हमले में छह लोग घायल हो गए. वन विभाग के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी. उप वन संरक्षक (शेत्रुंजी क्षेत्र) जयंत पटेल ने बताया कि घटना रविवार को जाफराबाद वन क्षेत्र के अंतर्गत बाबरकोट गांव में हुईं, जिसमें सुबह तीन लोग घायल हो गए और शाम को एक सड़क के किनारे हुए हमले में तीन और लोग घायल हो गए. उन्होंने कहा, ‘‘हमले उसी शेरनी द्वारा किया गया है. घायलों को अस्पतालों में स्थानांतरिक कर दिया गया है और कुछ को प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई है.’’

इस बीच, राजुला की पूर्व विधायक हीरा सोलंकी ने एक वीडियो बयान जारी कर लोगों से कहा था कि जब तक कोई आपात स्थिति न हो, बाबराकोट के आसपास के क्षेत्र में बाहर न निकलें. उन्होंने कहा था कि वन विभाग इलाके से शेरनी को बचाने के लिए प्रयास कर रहा है. हमले के बाद उन्होंने कहा कि शेरनी को पकड़ने का प्रयास किया जा रहा है. घायलों के बयान और पशु की जांच करने के बाद हमले का कारण पता चल सकेगा. (इनपुट भाषा से)

Tags: Gujarat, Lion

अगली ख़बर