vidhan sabha election 2017

गुजरात चुनाव: पहले चरण के लिए थमा प्रचार, 9 दिसंबर को मतदान

News18Hindi
Updated: December 7, 2017, 9:02 PM IST
गुजरात चुनाव: पहले चरण के लिए थमा प्रचार, 9 दिसंबर को मतदान
Gujarat polls: पहले चरण के लिए थम गया चुनाव प्रचार (Getty Images)
News18Hindi
Updated: December 7, 2017, 9:02 PM IST
गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले चरण के लिए गुरुवार को प्रचार थम गया. इस बार का चनाव सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी और विपक्षी कांग्रेस, दोनों के लिए करो या मरो की स्थिति है. 182 सीटों वाले विधानसभा के लिए 9 दिसंबर को पहले चरण के चुनाव में 89 सीटों पर वोट डाले जाएंगे जिसमें राजनीतिक रूप से महत्वपूर्ण सौराष्ट्र और दक्षिण गुजरात शामिल हैं.

पहले चरण के चुनाव में कुछ प्रमुख जिलों - राजकोट, जूनागढ़, अमरेली, मोरबी, कच्छ और सुरेंद्रनगर में मतदान होंगे. गुजरात चुनावों में 50 राजनीतिक दलों और निर्दलीयों से जुड़े 977 उम्मीदवार मैदान में हैं जिनमें 57 महिला प्रत्याशी शामिल हैं. 24,689 पोलिंग स्टेशनों पर मतदान होने जा रहे हैं.

पहले चरण के मतदान के लिए बीजेपी की तरफ से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस की तरफ से राहुल गांधी ने जमकर प्रचार किया.

जहां एक तरफ बीजेपी, मुख्यमंत्री विजय रूपाणी के नेतृत्व वाले राज्य में किए गए विकास कार्यों और केंद्र सरकार की उपलब्धियां गिनवाकर एंटी-इन्कंबेंसी फैक्टर से निपटने का प्रयास कर रही है, वहीं कांग्रेस प्रदेश हार्दिक पटेल जैसे नेताओं के सहारे सामाजिक गठबंधन बनाने की कोशिश में है. हार्दिक पटेल को इस चरण के चुनाव के लिए अहम खिलाड़ी के तौर पर देखा जा रहा है.

मोदी ने अब तक गुजरात में 14 रैलियों को संबोधित किया है, जबकि राहुल गांधी ने सौराष्ट्र और दक्षिण गुजरात में सात दिनों से ज्यादा वक्त बिताते हुए कई रैलियों को संबोधित किया.

गुरुवार को प्रचार के आखिरी दिन मोदी अनुसूचित जाति, जनजाति और तटीय इलाकों के सदस्यों से ऑडियो ब्रिज के ज़रिए संपर्क करेंगे. उम्मीद की जा रही है कि वो चक्रवात ओखी से जुड़ी चिंताओं को सुनेंगे.

गुजरात चुनाव बीजेपी और कांग्रेस दोनों के लिए महत्वपूर्ण है क्योंकि ये प्रदानमंत्री नरेंद्र मोदी का गृह राज्य है और कांग्रेस दो दशकों से अधिक वक्त से यहां सत्ता से बाहर है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर