Home /News /gujarat /

जर्मनी का दूल्हा, रूस की दुल्हन, गुजरात में हिंदू रीति-रिवाज से हुई अनोखी शादी

जर्मनी का दूल्हा, रूस की दुल्हन, गुजरात में हिंदू रीति-रिवाज से हुई अनोखी शादी

मूल रूप से जर्मनी के रहने वाले क्रिस मुलर ने रूस की जूलिया उख्वाकातिना के साथ मंत्रोच्चारण सहित सात फेरे लिए.

मूल रूप से जर्मनी के रहने वाले क्रिस मुलर ने रूस की जूलिया उख्वाकातिना के साथ मंत्रोच्चारण सहित सात फेरे लिए.

Foreigners Hindu wedding in Gujarat: कोविड महामारी के चलते जारी प्रतिबंधों को चलते इन दोनों के माता-पिता इस शादी में शरीक नहीं हो पाए. ऐसे में लालाभाई पटेल और उनकी पत्नी ने सारी रस्में निभाईं. बारात सरोदिया के पास के ही एक गांव तक गई जहां गांव वालों ने अगवानी की. दूल्हा और दुल्हन ने गणेश पूजा, हल्दी समारोह, और सप्तपदी और अन्य अनुष्ठानों का पालन किया.

अधिक पढ़ें ...

    अहमदाबाद. गुजरात (Gujarat) के हिम्मतनगर के सरोदिया गांव में हाल ही में एक अनोखी शादी देखने को मिली. यहां एक विदेशी जोड़ा पूरे हिंदू रीति रिवाज के साथ परिणय सूत्र में बंध गया. टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक मूल रूप से जर्मनी के रहने वाले क्रिस मुलर ने रूस की जूलिया उख्वाकातिना के साथ मंत्रोच्चारण सहित सात फेरे लिए. मुलर जर्मनी के एक संपन्न परिवार से ताल्लुक रखते हैं लेकिन आध्यात्म की खोज के चलते उन्होंने विलासिता भरी अपनी जिंदगी पूरी तरह से छोड़ दी. दुनिया के लगभग हर महाद्वीप की यात्रा कर चुके मुलर ने भारत को अपनी शादी के डेस्टिनेशन के तौर पर चुना.

    मुलर ने ऐसा इसलिए किया क्योंकि उन्होंने भारत में अपने घर जैसा महसूस किया. 2019 में आध्यात्मिक विज्ञान को सीखने के बाद, इस कपल ने हिंदू तरीके से शादी करने की योजना बनाई. इस दौरान उनकी मुलाकात लालाभाई पटेल से हुई. ये दोनों लालाभाई पटेल के गांव सरोदिया गए जहां उन्हें उस जगह और लोगों से प्यार हो गया.

    पटेल परिवार ने निभाईं शादी की रस्में
    कोविड महामारी के चलते जारी प्रतिबंधों को चलते इन दोनों के माता-पिता इस शादी में शरीक नहीं हो पाए. ऐसे में लालाभाई पटेल और उनकी पत्नी ने सारी रस्में निभाईं. बारात सरोदिया के पास के ही एक गांव तक गई जहां गांव वालों ने अगवानी की. दूल्हा और दुल्हन ने गणेश पूजा, हल्दी समारोह, और सप्तपदी और अन्य अनुष्ठानों का पालन किया. शादी में शिरकत करने वाले गुजरात के ही रहने वाले मुलर के करीबी ने बताया उन्होंने गरबा खेला और आशीर्वाद के लिए बुजुर्गों के पैर छुए.

    बता दें मुलर ने आध्यात्म की खोज में अपना घर छोड़ दिया, यहां तक कि अपनी बेशकीमती स्पोर्ट्स कार भी बेच दी. मुलर और उनकी पत्नी पिछले तीन सालों से भारत में ही रह रहे हैं.  वर्तमान में, मुलर स्पिरैटियो यूजी और इनर लिविंग प्राइवेट लिमिटेड के सीईओ और संस्थापक हैं जो व्यक्तिगत विकास और आंतरिक विकास पर परामर्श और कोचिंग प्रदान करते हैं. वह सांस लेने की तकनीक पर सेमिनार और कार्यशालाएं भी आयोजित करते हैं.

    Tags: Gujarat, Wedding Ceremony

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर