अपना शहर चुनें

States

अयोध्‍या में राम मंदिर निर्माण के लिए गुजरात से पहले चरण में मिला 100 करोड़ का चंदा

देश भर में अभी राम मंदिर के निर्माण के लिए चंदा एकत्रित किया जा रहा है.
देश भर में अभी राम मंदिर के निर्माण के लिए चंदा एकत्रित किया जा रहा है.

मकर संक्रांति के खास मौके पर रामजन्‍मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्‍ट (Ram Janmabhoomi Teerth Kshetra trust) की ओर से गुजरात (Gujarat) से प्रथम चरण में 100 करोड़ रुपये का चंदा दिया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 30, 2021, 8:48 AM IST
  • Share this:
अहमदाबाद. उत्‍तर प्रदेश के अयोध्‍या में राम मंदिर के निर्माण (Ram temple construction) के लिए मकर संक्रांति के खास मौके पर रामजन्‍मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्‍ट (Ram Janmabhoomi Teerth Kshetra trust) की ओर से गुजरात (Gujarat) से प्रथम चरण में 100 करोड़ रुपये का चंदा दिया गया है. इसके साथ ही राम मंदिर निर्माण के लिए मांगे जाने वाले चंदे के दूसरे चरण की शुरुआत भी कर दी गई है. गुजरात के दूसरे चरण में 19445 गांवों से चंदा जुटाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है.

विहिप के उत्तर गुजरात प्रांत के मंत्री व अभियान के संयोजक अश्विन पटेल के मुताबिक प्रथम चरण में राम मंदिर निर्माण के लिए चंदा लेने के लिए अलग अलग क्षेत्रों के कामकाजी लोगों और व्‍यवसायियों से संपर्क किया गया है. इस दौरान राम मंदिर निर्माण के लिए लोगों का उत्‍साह देखने लायक था. राम मंदिर निर्माण के लिए अब तक गुजरात से 100 करोड़ रुपए की राशि हासिल की जा चुकी है.

विहिप के उत्तर गुजरात प्रांत के व अभियान के प्रचार प्रमुख हितेन्द्रसिंह राजपूत के अनुसार ‘राष्ट्रीय स्वाभिमान की पुन: प्रतिष्ठा’ नारे के साथ अभियान का दूसरे चरण की शुरुआत की जा चुकी है. अहमदाबाद में पालडी क्षेत्र स्थित विहिप कार्यालय में पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने राम मंदिर निर्माण के लिए चंदा देकर इस चरण की शुरुआत की. संतों के नेतृत्व में चलने वाले अभियान में संत भी विशेषतौर पर गरीब-वंचित क्षेत्रों में जाकर हिन्दू समाज को निधि समर्पण के लिए अपील करेंगे.
इसे भी पढ़ें :- 83 साल के संत ने राम मंदिर के लिए दिए 1 करोड़, 60 साल से रह रहे गुफा में



वीएचपी और आरएसएस की होगी अहम भूमिका
रामजन्मभूमि मंदिर निर्माण निधि संग्रह समिति की देखरेख में चलने वाले इस अभियान के दूसरे चरण में विश्व हिन्दू परिषद (वीएचपी), राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) और विचार संस्थाओं के कार्यकर्ता घर-घर जाकर प्रत्येक हिन्दू को राम मंदिर निर्माण कार्य में जोड़ने का काम करेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज