सूरत की यूनिवर्सिटी में सालों से इन पोस्ट्स के लिए निकल रही भर्ती लेकिन कोई नहीं कर रहा अप्लाई

वीर नर्मद दक्षिण गुजरात विश्वविद्यालय (VNSGU) (तस्वीर- http://www.vnsgu.ac.in/)

वीर नर्मद दक्षिण गुजरात विश्वविद्यालय (VNSGU) (तस्वीर- http://www.vnsgu.ac.in/)

वीर नर्मद दक्षिण गुजरात विश्वविद्यालय (Veer Narmad South Gujarat University VNSGU) ने पदों की योग्यता और अनुभव में बदलाव किए लेकिन इसके बाद भी कोई आवेदक नहीं मिला.

  • Share this:

सूरत. एक ओर देश में कोरोना के चलते बेरोजगारी चरम पर है तो वहीं कुछ ऐसे लोग भी हैं जो रोजगार के लिए आवेदन ही नहीं कर रहे हैं. मामला गुजरात स्थित सूरत (Surat) के वीर नर्मद दक्षिण गुजरात विश्वविद्यालय (Veer Narmad South Gujarat University VNSGU) का है. एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार यूनिवर्सिटी ने विभिन्न पदों के लिए विज्ञापन जारी किये लेकिन कोई अप्लाई करने नहीं आया. इतना ही नहीं यूनिवर्सिटी अच्छी सैलरी देने को भी तैयार है.

रिपोर्ट के अनुसार यूनिवर्सिटी की ओर से इन पदों को भरने के लिए लाखों रुपये विज्ञापन में खर्च कर दिए. विश्वविद्यालय दो साल से लीगल एडवाइडर, पब्लिक रिलेशन ऑफिसर, सिक्योरिटी गार्ड, स्पोर्ट्स टीचर और अन्य पदों के लिए विज्ञापन जारी कर रहा है.

रिपोर्ट के अनुसार यूनिवर्सिटी ने इन पदों की योग्यता और अनुभव में बदलाव किए लेकिन इसके बाद भी कोई आवेदक नहीं मिला. दावा किया गया कि सभी पद स्थायी ना होकर संविदा पर थे. संविदा पर हर फैसला होता है. ऐसे में लोग नौकरी को लेकर सुरक्षित महसूस नहीं करते हैं. इसके साथ ही अनुभव ज्यादा मांगा गया था और शैक्षिक योग्यता भी पद के अनुसार ज्यादा ही थी.

घटाई गई योग्यता
वहीं विज्ञापन जारी होने के बाद भी जब आवेदकों ने अप्लाई नहीं किया तो लीगल एडवाइजर पद के लिए यूनिवर्सिटी ने योग्यता कम कर दी. इसके बाद अनुभव भी घटा दिया. सिक्योरिटी गार्ड की शैक्षणिक योग्यता कक्षा 9वीं पास कर दी गई और पीआरओ के लिए एमबीए (HR) की अनिवार्यता हटा ली गई. फिर भी कोई नहीं आया.


यूनिवर्सिटी ने पीआरओ के लिए 40 हजार, लीगल एडवाइडर के लिए 45 हजार, स्पोर्ट्स टीचर के 5 पदों के लिए 40 हजार और सिक्योरिटी गार्ड के लिए 13 हजार रुपये देने के फैसला किया था. यूनिवर्सिटी के डिप्टी रजिस्ट्रार नरेंद्र पटेल के अनुसार विश्वविद्यालय ने मांगी गई योग्यता में बदलाव करते हुए नई भर्ती प्रक्रिया शुरू की है. आशा है कि अब लोग आवेदन करेंगे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज