Covid-19 updates: महाराष्ट्र से गुजरात आने के लिए नेगेटिव कोविड-19 रिपोर्ट जरूरी

गुजरात सरकार ने पड़ोसी राज्य महाराष्ट्र से आने वाले लोगों के लिए निगेटिव आरटी-पीसीआर जांच रिपोर्ट साथ लाना 
अनिवार्य कर दिया है

गुजरात सरकार ने पड़ोसी राज्य महाराष्ट्र से आने वाले लोगों के लिए निगेटिव आरटी-पीसीआर जांच रिपोर्ट साथ लाना अनिवार्य कर दिया है

महाराष्‍ट्र से गुजरात आने वाले सभी यात्रियों को अपने साथ नेगेटिव आरटी-पीसीआर जांच रिपोर्ट साथ लाना अनिवार्य कर दिया गया है. गुजरात सरकार ने यह ऐलान किया है कि जांच रिपोर्ट 72 घंटे से पहले नहीं करायी गई हो. गुजरात सरकार ने एहतियात बरतते हुए यह फैसला लिया है. महाराष्‍ट्र में कोरोना से संक्रमितों की संख्‍या लगातार बढ़ रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 24, 2021, 5:11 PM IST
  • Share this:
अहमदाबाद. गुजरात सरकार ने पड़ोसी (Gujarat Coronavirus updates) राज्य महाराष्ट्र से आने वाले लोगों के लिए नेगेटिव आरटी-पीसीआर जांच रिपोर्ट साथ लाना अनिवार्य कर दिया है और यह जांच 72 घंटे से पहले नहीं करायी होनी चाहिए. राज्य सरकार ने कहा कि महाराष्ट्र (Maharashtra) में कोविड-19 के मामलों में भारी वृद्धि के मद्देनजर यह निर्णय लिया गया है. महाराष्ट्र के स्वास्थ्य विभाग के अनुसार 23 मार्च को 28,699 नए मरीजों के सामने आने से राज्य में इस महामारी के मामले बढ़कर 25,33,026 हो गये.

स्वास्थ्य विभाग ने मंगलवार को जारी किये गये आदेश में कहा कि पिछले एक सप्ताह में कोविड-19 के मामलों के संपर्कों की पहचान के दौरान पाया गया कि बड़ी संख्या में संक्रमित लोग महाराष्ट्र से लौटे थे. उसने कहा कि महाराष्ट्र से गुजरात आने वाले लोगों को अनिवार्य स्क्रीनिंग से भी गुजरना होगा.

नेगेटिव रिपोर्ट वालों को ही मिलेगी राज्य में एंट्री
स्वास्थ्य विभाग के उपसचिव वनराज सिंह पधियार द्वारा जारी किये गये आदेश में कहा गया है, ‘‘महाराष्ट्र से केवल वे लोग ही गुजरात में प्रवेश करने के पात्र होंगे जिन्होंने अपनी यात्रा से 72 घंटे पहले आरटी-पीसीआर जांच करायी हो और जांच परिणाम नेगेटिव हो.’’
ये भी पढ़ेंः- बंगाल चुनाव 2021: मंच पर नरेंद्र मोदी के पैर छूने बढ़ा कार्यकर्ता, तो बदले में पीएम ने छू लिए उनके पांव



दिल्‍ली में फैल रही है अफवाह
कुछ अफवाहें भी सोशल मीडिया से लेकर कई जगहों पर सामने आ रही हैं, जिनमें कहा जा रहा है कि किसी भी राज्‍य में जाने और वहां से दिल्‍ली वापस आने के लिए कोरोना टेस्‍ट की नेगेटिव रिपोर्ट (Corona Test Negative Report) साथ लानी होगी.

इस पर दिल्‍ली सरकार पब्लिक हेल्‍थ में एडिशनल डायरेक्‍टर डॉ. बीएस चरण ने न्‍यूज18 हिंदी को बताया कि पिछले दिनों एकदम से दिल्‍ली के करीब पांच राज्‍यों में कोरोना के केस बढ़े थे जिसके बाद अफवाह फैली थी कि अमुक पांच राज्‍यों से दिल्‍ली में आने के लिए कोरोना टेस्‍ट की रिपोर्ट लानी होगी लेकिन ऐसा कोई भी आदेश नहीं आया था. वहीं होली से पहले अब एक बार फिर ऐसी ही अफवाह सामने आ रही है.



ये भी पढ़ेंः- देश में तेजी से पैर पसार रहा कोरोना, 18 राज्यों में मिले डबल म्यूटेंट वैरिएंट के सबूत- केंद्र

डॉ. चरण ने बताया कि 24 मार्च तक ऐसा कोई भी आदेश सरकार की तरफ से नहीं आया है जिसमें कहा गया हो कि किसी राज्‍य से वापस दिल्‍ली आने के लिए कोरोना टेस्‍ट की नेगेटिव रिपोर्ट लानी होगी. इस संबंध में पब्लिक हेल्‍पलाइन में भी लोगों के सवाल आ रहे हैं. होली पर दूसरे राज्‍यों में अपने-अपने घर जाने वाले लोग इन अफवाहों से ज्‍यादा परेशान हो रहे हैं. कई खबरों में आदेश का हवाला दिया जा रहा है जबकि ऐसा कोई आदेश दिल्‍ली सरकार ने दिया ही नहीं है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज