अपना शहर चुनें

States

PM मोदी आज गुजरात के दौरे पर कच्‍छ में सिख किसानों से करेंगे मुलाकात

पीएम मोदी आज जाएंगे गुजरात. (Pic- ANI)
पीएम मोदी आज जाएंगे गुजरात. (Pic- ANI)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) मंगलवार को गुजरात में कुछ परियोजनाओं का शिलान्यास करेंगे और कच्छ में धोरडो के किसानों और कलाकारों के साथ संवाद करेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 15, 2020, 8:52 AM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. केंद्र सरकार की ओर से लाए गए 3 कृषि कानूनों (Farm Laws) का विरोध कर रहे किसान दिल्‍ली से सटी सीमाओं पर डटे हुए हैं. मंगलवार को उनके आंदोलन (Farmer Protest) का 20वां दिन है. इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) आज गुजरात (Gujarat) के एक दिनी दौरे पर रहेंगे. कृषि कानूनों के विरोध में जारी किसान आंदोलन के बीच वह कच्छ के कृषक समुदाय के अलावा गुजरात के सिख किसानों से भी मुलाकात करेंगे.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को गुजरात में कुछ परियोजनाओं का शिलान्यास करेंगे और कच्छ में धोरडो के किसानों और कलाकारों के साथ संवाद करेंगे. मुख्य कार्यक्रम से पहले वह कच्छ के किसानों के साथ चर्चा भी करेंगे. भारत-पाकिस्‍तान सीमा के पास बसे सिख किसानों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से संवाद के लिए आंमत्रित किया गया है.

पीएम मोदी अपने गुजरात दौरे के दौरान सिख किसानों से मुलाकात करेंगे. बता दें कि कृषि कानूनों के खिलाफ पंजाब और हरियाणा के किसान आंदोलन कर रहे हैं. इनमें अधिकांश संख्‍या सिख किसानों की ही है. ऐसे में पीएम मोदी मुलाकात के दौरान किसानों को कृषि कानून पर बड़ा संदेश दे सकते हैं. कच्छ जिले की लखपत तालुका में और इसके आसपास मिलाकर करीब 5,000 सिख परिवार रहते हैं.



पीएम मोदी इससे पहले अपने 'मन की बात' रेडियो कार्यक्रम के जरिये भी किसानों को संदेश दे चुके हैं. उन्‍होंने इस दौरान कृषि कानून के लाभ के बारे में बताया था. पीएम ने किसानों से अफवाहों से बचाने की सलाह भी दी थी. वहीं सरकार और किसानों के बीच कई दौर की वार्ता भी हो चुकी है. लेकिन ये वार्ता बेनतीजा रही हैं. किसान कृषि कानूनों को वापस लेने पर अड़े हैं.

दौरे के दौरान पीएम मोदी खावडा में विश्व के सबसे बड़े मिश्रित नवीन ऊर्जा पार्क, और अरब सागर तट के पास मांडवी में खारे पानी को इस्तेमाल योग्य बनाने वाले एक संयंत्र का डिजिटल तरीके से शिलान्यास करेंगे. 30,000 मेगावाट का मिश्रित नवीन ऊर्जा पार्क में सौर पैनल और पवनचक्की की मदद से ऊर्जा पैदा की जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज