गुजरात: सूरत में कोरोना का डर, बाहर से आने वालों को 7 दिन रहना होगा क्‍वारंटाइन

राज्य में कोविड-19 की दूसरी लहर की शुरुआत हो चुकी है. केंद्रीय दल ने अपनी रिपोर्ट में ऐसा कहा था.

राज्य में कोविड-19 की दूसरी लहर की शुरुआत हो चुकी है. केंद्रीय दल ने अपनी रिपोर्ट में ऐसा कहा था.

Surat News: सूरत शहर में आने वाले लोगों को घर पर सात दिन के अनिवार्य आइसोलेशन में रहना होगा और उन्हें घर पर अन्य लोगों को संक्रमित होने से बचाने के लिए खुद को अलग रखना होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 18, 2021, 7:53 AM IST
  • Share this:
सूरत. बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) के मामलों से निपटने के लिए गुजरात सरकार (Gujarat) भी सतर्क है. कोरोना संक्रमण (Covid 19) से बचाव के लिए गुजरात सरकार ने अहमदाबाद, सूरत (Surat), राजकोट और वडोदरा में नाइट कर्फ्यू लगाया है. इसके साथ ही अब सूरत में होम आइसोलेशन या क्‍वारंटाइन की भी घोषणा की गई है. कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी होने के मद्देनजर सूरत नगर निगम ने गुजरात के बाहर से सूरत आने वाले लोगों के लिए घर पर सात दिन के अनिवार्य क्‍वारंटाइन संबंधी एक अधिसूचना बुधवार को जारी की है.

महामारी रोग अधिनियम के प्रावधानों के तहत जारी अधिसूचना में कहा गया है कि यदि किसी व्यक्ति में क्‍वारंटाइन में रहते हुए वायरल संक्रमण का कोई लक्षण दिखाता है, तो उसे तुरंत जांच करानी चाहिए. अधिसचूना में कहा गया है कि गुजरात के बाहर से सूरत शहर में आने वाले लोगों को घर पर सात दिन के अनिवार्य आइसोलेशन में रहना होगा और उन्हें घर पर अन्य लोगों को संक्रमित होने से बचाने के लिए खुद को अलग रखना होगा.

नगर निगम के अनुसार सूरत में मंगलवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 263 नये मामले सामने आए थे जिससे शहर में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 42,979 पर पहुंच गई. वहीं अहमदाबाद में भी कड़े नियम लागू किए गए हैं. अहमदाबाद नगर निगम ने अपनी सिटी बस सर्विस को भी गुरुवार से बंद करने का फैसला लिया है.

वहीं अहमदाबाद नगर निगम ने शहर में एहतियात के तौर पर साबरमती रिवरफ्रंट, उस्‍मानपुरा गार्डन, सुभाष ब्रिज के पास रिवरफ्रंट पार्क, एलिस ब्रिज के पास फ्लावर पार्क, चिल्‍ड्रेन पार्क और बायोडायवर्सिटी पार्क को भी लोगों के लिए बंद रखने का फैसला किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज