सूरत में हाईटेक चोर गिरफ्तार, गूगल मैप में दुकानों का पता लगाकर करता था चोरी

गूगल मैप के जरिये चोरी करता था चोर.

गूगल मैप के जरिये चोरी करता था चोर.

Surat News: चोर ने पुलिस के सामने कबूल किया है कि दो महीने पहले उसने जूनागढ़ और पांडेसरा में गुटखा की दुकानों को गूगल मैप पर तलाशा और 9 लाख से ज्यादा का कीमत का सामान चुराया.

  • Share this:

सूरत. सूरत पुलिस (Surat Police) ने एक ऐसे चोर को गिरफ्तार किया है जो गूगल मैप (Google Map) में तंबाकू की दुकान सर्च करके चोरी करता था. पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. चोर ने पुलिस के सामने कबूल किया है कि दो महीने पहले उसने जूनागढ़ और पांडेसरा में गुटखा की दुकानों को गूगल मैप पर तलाशा और 9 लाख से ज्यादा का कीमत का सामान चुराया. पुलिस ने उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी है.

सूरत में चोरी की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं. ऐसे चोरों को पकड़ने के लिए लगातार ऑपरेशन चलाया जा रहा था. तभी क्राइम ब्रांच को खबर मिली कि तकनीक का इस्तेमाल करने वाला एक चोर भी सक्रिय है. हालांकि वारछा की एक फैक्ट्री में काम करने वाले ने गैंग बनाकर गोदामों से तंबाकू चोरी करने के लिए गूगल मैप्स का इस्तेमाल किया.

उसने दो महीने पहले जूनागढ़ में और हाल ही में सूरत के पांडेसरा में 9 लाख रुपये की चोरी की थी. पुलिस गिरोह को पकड़ने में नाकाम रही है लेकिन पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर गिरोह के मास्टरमाइंड को वारछा मिनी बाजार से गिरफ्तार कर लिया है.

वह वारछा में एक लेजर मशीन फैक्ट्री में काम करता था. गिरफ्तार किए गए चोर का नाम नरेश उर्फ ​​नारियो लाडुमोर है. नारियो मूल रूप से अमरेली के राजुला का रहने वाला है. हालांकि पुलिस ने उसको हिरासत में लेकर पूछताछ की. 5 आरोपियों को वडोदरा क्राइम ब्रांच ने एक महीने पहले ही दबोच लिया था.
गिरोह पहले रेकी करता है फिर रात में चोरी करता है. चोरी के सामान को ताम्पा ले जाया जाता है. नरेश इससे पहले सूरत से 14 वाहन चोरी करते पकड़ा गया था. ये लोग लूटपाट करने के लिए पलसाना भी गए थे.


महावीर सिंह, धर्मेश, रामबाबू, अजय और जगदीश फिलहाल जेल में हैं. पुलिस ने उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करते हुए आगे की जांच शुरू कर दी है. पुलिस ने यह भी उम्मीद जताई कि इस जांच के दौरान चोरी के कई भेद सुलझ जाएंगे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज