सूरतः RPF की मदद से अगवा बच्चे को बचाया, महाराष्ट्र ले गया था आरोपी; 3 गिरफ्तार

अजनबी 10 दिनों से बच्चे को चॉकलेट दे रहा था और धीरे-धीरे अपने वश में कर रहा था. (सांकेतिक तस्वीर)

अजनबी 10 दिनों से बच्चे को चॉकलेट दे रहा था और धीरे-धीरे अपने वश में कर रहा था. (सांकेतिक तस्वीर)

Surat Kidnapping Case: आरपीएफ सूरत पुलिस (Surat Police) द्वारा दिए गए निर्देशों के अनुसार ट्रेन से उतरने वाले लोगों की निगरानी कर रही थी. कुछ ही समय बाद, तीन अज्ञात लोगों को आरपीएफ ने बच्चे को बाहर निकालने की कोशिश करते हुए पकड़ा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 10, 2021, 11:59 AM IST
  • Share this:
सूरत. गुजरात (Gujarat) राज्य के सूरत शहर के सचिन जीआईडीसी एरीया (Sachin GIDC Area) से अगवा किए गए एक मासूम बच्चे को सूरत पुलिस ने भुसावल आरपीएफ (Bhusawal RPF) की मदद से बचाया. आरोपी के मोबाइल को ट्रेस कर सचिन जीआईडीसी पुलिस अपहरणकर्ताओं का पता लगाने में सफल रही है. मामले में पुलिस ने कहा कि बच्चा 8 मार्च को घर के बाहर खेलते समय लापता हो गया था. बाद में परिवार ने बच्चे की तलाश शुरू की. हालांकि, परिवार ने जांच के दौरान बच्चे को नहीं पाया और पुलिस से संपर्क किया और शिकायत दर्ज की.

पुलिस जांच में पता चला है कि बच्चे को कोई व्यक्ति द्वारा अपने घर ले जाया गया था. इतना ही नहीं अजनबी 10 दिनों से बच्चे को चॉकलेट दे रहा था और धीरे-धीरे अपने वश में कर रहा था. बाद में उसने आरोपी के बच्चे का अपहरण कर लिया और भुसावल (महाराष्ट्र) चला गया. बाद में पुलिस ने उसके मोबाइल नंबर को ट्रेस कर आरोपी का पता लगाने की कोशिश की.

यह भी पढ़ें: हरियाणा: छात्र का अपहरण कर 1 करोड़ फिरौती मांगने वाले दो आरोपी गिरफ्तार, 3 फरार



दूसरी ओर, भुसावल रेलवे स्टेशन पर पुलिसने आरपीएफ को सूचित किया, बच्चे की एक तस्वीर दी और आरोपी को पकड़ने और बच्चे को छोड़ने के लिए मदद मांगी. इसके साथ ही भुसावल रेलवे स्टेशन के आरपीएफ जवानों को रेलवे स्टेशन पर तैनात किया गया. आरोपी बच्चे के साथ ट्रेन से उतरते ही आरपीएफए ​​ने उसे गिरफ्तार कर लिया.

आरपीएफ सूरत पुलिस द्वारा दिए गए निर्देशों के अनुसार ट्रेन से उतरने वाले लोगों की निगरानी कर रही थी. कुछ ही समय बाद, तीन अज्ञात लोगों को आरपीएफ ने बच्चे को बाहर निकालने की कोशिश करते हुए पकड़ा. बच्चे ने भी अंकल के साथ आया हुआ हूं कबूला. इसके बाद आरोपी के पास बचने का कोई रास्ता नहीं रहा. सचिन जीआईडीसी पुलिस ने मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है और आगे की जांच शुरू कर दी है. पुलिस जांच से पता चलेगा कि आरोपी ने बच्चे का अपहरण क्यों किया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज