गुजरात में टाउते तूफान का कहर, बारिश-हवा से उड़ी घरों की छत, 1000 गांव की बिजली गुल

टाउते तूफान ने गुजरात में कहर बरपाया है. (Pic- News18)

टाउते तूफान ने गुजरात में कहर बरपाया है. (Pic- News18)

Tauktae Cyclone: चक्रवाती तूफान से भारी तबाही हुई है. सौराष्ट्र के एक हजार गांवों में बिजली आपूर्ति ठप हुई है, कई जगह पैड और बिजली के खंभे गिर गए हैं.

  • Share this:

अहमदाबाद: अरब सागर (Arab Sea) में उत्‍पन्‍न भयंकर चक्रवाती तूफान टाउते (Tauktae Cyclone) सोमवार देर रात गुजरात (Gujarat) के तट से टकरा गया. दीव के पूर्व में 165 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से पोरबंदर और महुवा में आए तूफान का आसपास के इलाकों पर गहरा असर पड़ा. तूफान के लैंडफॉल या जमीन से टकराने की प्रक्रिया चार घंटे तक चली. जिससे गुजरात के 188 तालुकों में 1 मिमी से 8 इंच तक बारिश हुई.

अमरेली के बगसरा में 8 इंच, गिर सोमनाथ के गिरगढ़दा और ऊना में 7 इंच और अमरेली में 6 इंच बारिश हुई है. चक्रवाती तूफान से भारी तबाही हुई है. सौराष्ट्र के एक हजार गांवों में बिजली आपूर्ति ठप हुई है, कई जगह पैड और बिजली के खंभे गिर गए हैं. कच्चे घरों की छतें उड़ गईं. तूफान आज दोपहर तक अहमदाबाद पहुंचेगा.

लैंडफॉल की प्रक्रिया के बाद 17 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चल रहे तूफान से भावनगर, अमरेली, गिर सोमनाथ, जूनागढ़ और पोरबंदर जिले सबसे ज्यादा प्रभावित हुए हैं. तूफान के बाद वेरावल-जाफराबाद बंदरगाह पर सिग्नल नंबर 10 तैनात किया गया था.

मौसम विभाग के अनुसार, राज्य तूफान से प्रभावित होगा और अगले 24 घंटों में कई इलाकों में भारी से बहुत भारी बारिश का अनुमान है. मंगलवार को गिर सोमनाथ, अमरेली, भावनगर, जूनागढ़, बोटाद, दीव, वलसाड, नवसारी, दमन, दादरा नगर हवेली, सुरेंद्रनगर, राजकोट, भरूच, सूरत, अहमदाबाद, आनंद, खेड़ा, वडोदरा, पोरबंदर,जामनगर, मोरबी में भारी से बहुत भारी बारिश की संभावना है.


19 मई से कम होगा प्रभाव

मौसम विभाग के मुताबिक बुधवार 19 मई से तूफान डिप्रेशन में बदल जाएगा और इसका असर कमजोर होगा. तूफान के कारण बुधवार को भी बारिश होने की संभावना है. सोमवार को वलसाड जिले के तट पर भी तूफानी मौसम देखने को मिला. रात में भी समुद्र में करंट आया और तट के आसपास के इलाकों में कच्चे घरों की छतें उड़ गईं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज