मनोहर सरकार के आदेश के बाद हरियाणा रोडवेज की पांच मिनी बसों को एंबुलेंस बनाया, मरीजों को होगा लाभ

सोनीपत में पांच मिनी बसों को एंबुलेंस बनाया गया है.

सोनीपत में पांच मिनी बसों को एंबुलेंस बनाया गया है.

सोनीपत (Sonipat) में हरियाणा रोडवेज की 5 मिनी बसों को एंबुलेंस (Ambulance) बनाया गया है. इससे कोरोना मरीजों को सुविधा मिल सकेगी. हरियाणा सरकार के आदेश के बाद यह कदम उठाया गया है.

  • Share this:

सोनीपत. हरियाणा सरकार (Haryana Government) के आदेश के बाद सोनीपत जिले में हरियाणा रोडवेज की 5 मिनी बसों को एंबुलेंस बना दिया गया है. जिले में बढ़ते कोरोना मरीजों को देखते हुये इन बसों को एंबुलेंस बनाया गया है. चार सब-डिवीजन पर एक-एक एंबुलेंस को तैनात किया जाएगा. इसके अलावा एक एंबुलेंस को इमरजेंसी के लिए रखा जाएगा. एक एंबुलेंस में 4 मरीजों को ले जाने और लाने की व्यवस्था है. एंबुलेंस में ऑक्सीजन से लेकर सभी तरह के इंतजाम किये गये हैं.

ये तस्वीरें हरियाणा के सोनीपत रोडवेज के मिनी बसों की हैं. इन्हीं पांच बसों को एंबुलेंस में तब्दील किया गया है. आप देख सकते हैं कि एंबुलेंस को हर तरह से तैयार किया गया है. एंबुलेंस में सैनिटाइजर से लेकर 4 बेड लगाए गए हैं. मरीजों को कोई परेशानी ना हो इसकी भी व्यवस्था की गई है. सभी एंबुलेंस में ऑक्सीजन से लेकर दवाई और सैनिटाइजर की व्यवस्था की गई है.

VIDEO: लॉकडाउन में इंसानियत शर्मसार, 90 साल की बुजुर्ग महिला को बहू व पोते ने पीटकर घर से निकाला

डीसी सोनीपत श्याम लाल पुनिया ने बताया कि हरियाणा सरकार के आदेश के बाद चार मिनी बसों को एंबुलेंस बनाया गया है. ताकि मरीजों को लाने ले जाने में कोई परेशानी ना हो. वहीं मरीजों की सुविधा को देखते हुए एंबुलेंस में ऑक्सीजन सिलेंडर और दवाइयों की व्यवस्था भी की गई है. इन सभी एंबुलेंस को चार सबडिवीजन पर तैनात किया जाएगा और इसके अलावा एक एंबुलेंस का इमरजेंसी के लिए रखा जाएगा. वहीं गांव में संक्रमण को रोकने के लिए ठीकरी पहरा लगा जाएगा और टेस्टिंग को भी बढ़ाया जाएगा.
ऑटो वाला फ्री में मरोजों को ले जा रहा है अस्पताल

एंबुलेंस वालों के द्वारा मुंह मांगी कीमत वसूलने की खबरों के बाद ड्रीम इंडिया टू एजुकेट इंडिया एनजीओ ने ऑटो को एंबुलेंस बनाकर निशुल्क सेवा शुरू की है. इस ऑटो एंबुलेंस के द्वारा मरीजों को घर से अस्पताल तक ले जाने या फिर अस्पताल से घर पहुंचाने का काम किया जा रहा है. इस ऑटो एंबुलेंस को कोविड मरीजों को लाने ले जाने के लिए ड्रीम इंडिया टू एजुकेट इंडिया एनजीओ द्वारा स्पेशल तौर पर तैयार किया गया है. इस पर पीपी किट पहने ड्राइवर भी तैनात किया गया है. जो कॉल आने पर बताए गए पते पर पहुंचकर अपनी निशुल्क सेवा दे रहे हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज