लाइव टीवी

अंबाला पुलिस को साल भर से मिल रही हैं कोरी चिट्ठियां, राज जानने के लिए भेजेंगे फोरेंसिक लैब
Ambala News in Hindi

Krishna Bali | News18 Haryana
Updated: November 13, 2018, 1:50 PM IST
अंबाला पुलिस को साल भर से मिल रही हैं कोरी चिट्ठियां, राज जानने के लिए भेजेंगे फोरेंसिक लैब
खाली चिट्ठियों को भी अंबाला पुलिस संभाल के रखती है.

अंबाला पुलिस इन दिनों ऐसी चिट्ठियों से परेशान है, जिसमे कुछ लिखा नहीं होता. खत भेंजने वाला व्यक्ति पुलिस को महीने में कम से कम 2 खाली खत भेज ही देता है. अंबाला पुलिस इन खतों को संभाल कर रख रही है. इन खतों में भेजने वाले का पता अलग-अलग होता है, लेकिन हैंड राइटिंग एक ही जैसी होती है.

  • Share this:
हरियाणा की अंबाला पुलिस इन दिनों कोरी चिट्टियों को लेकर काफी परेशान है. एसपी अंबाला को साल भर से लगातार ऐसी चिट्ठियां मिल रही हैं, जिसमें कुछ लिखा ही नहीं होता सिर्फ़ कोरा कागज होता है. अनुमान है कि इन चिट्ठियों को भेजने वाला शख्स भी एक ही है, जो अलग-अलग पते से चिट्ठियां भेजता है. एसपी अंबाला ने मामले की जांच के लिए चिट्ठियों को फोरेंसिक लैब भेजने का मन बनाया है. पुलिस को शक है कि कहीं ऐसी इंक का इस्तेमाल तो नहीं हुआ जो पारदर्शी हो.

सामान्य तौर पर पुलिस ऐसे बेनामी खतों से परेशान रहती है, जिसकी जांच पुलिस को करनी पड़ती है. लेकिन अंबाला पुलिस इन दिनों ऐसी चिट्ठियों से परेशान है, जिसमे कुछ लिखा नहीं होता. खत भेंजने वाला व्यक्ति पुलिस को महीने में कम से कम 2 खाली खत भेज ही देता है. अंबाला पुलिस इन खतों को संभाल कर रख रही है. इन खतों में भेजने वाले का पता अलग-अलग होता है, लेकिन हैंड राइटिंग एक ही जैसी होती है.

मामले को अभी तक पुलिस ने गंभीरता से नहीं लिया था, मगर अब एसपी अंबाला अशोक कुमार ने इसकी जांच करवाने की ठानी है. पुलिस को शक है कि कहीं चिट्ठियों में ऐसी स्याही का इस्तेमाल तो नहीं हुआ है, जिसे सामान्य आंखों से नहीं पढ़ा जा सकता हो.

यह भी पढ़ें- अंबाला एसिड अटैक: पीड़िता के रिश्तेदार ने ही दिया था वारदात को अंजाम



यह भी देंखें- PHOTOS: हरियाणा का अनोखा गांव, सेना में है यहां के हर घर का सदस्य

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अंबाला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 13, 2018, 1:50 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर