हरियाणा में कोरोना ने बढ़ाई चिंता, लेकिन नहीं लगेगा लॉकडाउन, गृह मंत्री बोले- सख्ती ही बचाव

हरियाणा सरकार ने राज्‍य में नाइट कर्फ्यू लगा रखा है.

हरियाणा सरकार ने राज्‍य में नाइट कर्फ्यू लगा रखा है.

मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर और गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर अधिकारियों के साथ की बैठक. बगैर मास्क पहने घर से निकलने वालों का चालान काटने की मुहिम शुरू करने का निर्देश.

  • Share this:
अंबाला. हरियाणा में रफ्तार पकड़ रहे कोरोना वायरस संक्रमण पर लगाम कसने के लिए सरकार गंभीर हो गई है. हालांकि सरकार ने कहा है कि कोरोना के बढ़ते मामलों के बावजूद लॉकडाउन या नाइट कर्फ्यू लगाने पर विचार नहीं किया जा रहा है. इधर, कोरोना संक्रमण को लेकर सूबे के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने प्रदेश के सभी उपायुक्त, सिविल सर्जन और पुलिस के आला अधिकारियों के साथ बैठक की. वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये हुई बैठक में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर भी मौजूद रहे.

प्रदेश में फैल रही कोरोना की दूसरी लहर को लेकर हुई इस बैठक में गृह मंत्री अनिल विज ने सभी अधिकारियों को कड़े शब्दों में प्रदेश में सख्ती बढ़ाने के निर्देश दिए. विज ने स्पष्ट रूप से कहा कि वे अभी किसी तरह के लॉकडाउन या नाईट कर्फ्यू के पक्ष में नहीं हैं. ऐसे में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए सख्ती ही एकमात्र बचाव का जरिया है.

VC के जरिये हुई अहम बैठक में स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों, उपायुक्तों और पुलिस कप्तानों को प्रदेश में फिर से सख्ती बढ़ाने के निर्देश दिए. विज ने कहा कि बीते वर्ष कोरोना से इसी महीने में लड़ाई शुरू हुई थी, लेकिन इस बार अभी सरकार इस पक्ष में नहीं है कि लॉकडाउन या  नाइट कर्फ्यू लगाया जाए. विज ने अधिकारियों को कहा कि बिना मास्क लगाकर घूमने वाले लोगों पर सख्ती के लिए हर चौक चौराहे पर चालान काटने की मुहिम शुरू करें. विज ने इस बैठक में यह भी स्पष्ट कर दिया कि अगर आने वाले समय कोरोना पर लगाम कसने के लिए कड़े कदम उठाने पड़े तो वो भी उठाए जाएंगे. उन्होंने कहा कि लॉकडाउन की वजह से लोग पहले ही काफी सहन कर चुके हैं. इसलिए वायरस के बढ़ते संक्रमण के बावजूद वे फिर से लॉकडाउन के पक्ष में नहीं हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज