अंबाला: फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़, STF ने दबोचे 90 लड़के और 23 लड़कियां, 200 कंप्यूटर बरामद

अंबाला में चल रहा था फर्जी कॉल सेंटर

अंबाला में चल रहा था फर्जी कॉल सेंटर

Fake Call Center Caught in Ambala: इस फर्जी कॉल सेंटर से 200 के करीब कंप्यूटर और कुछ कैश बरामद किया गया है. यह गोरखधंधा जनवरी से ही चलाया जा रहा था. एसटीएफ ने गिरोह के सरगना और 8 मुख्य संचालकों को गिरफ्तार कर लिया है.

  • Share this:

अंबाला. अंबाला में चल एक फर्जी कॉल सेंटर का भांडा फोड़ने में एसटीएफ को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. यह कॉल सेंटर हिसार रोड स्थित घूंघट पैलेस में चल रहा था, जहां छापा मार कर एसटीएफ ने गोरखधंधे का पर्दाफाश कर दिया. दरअसल वेनिकुला विक्टरी इंफोटेक प्राइवेट लिमिटेड जनवरी से घूंघट पैलेस को लीज पर लेकर वहां अपना काला कारोबार चला रही थी, लेकिन किसी को भी इसकी भनक नहीं लगी. एसटीएफ ने देर रात 2 बजे के करीब पुख्ता जानकारी पर कार्रवाई करते हुए पैलेस पर रेड की ओर 90 लड़कों व 23 लड़कियों को धर दबोचा, जो अंदर कॉल सेंटर में काम करते थे.

बताया जा रहा है कि ये गिरोह अपने कॉल सेंटर में सिर्फ रात को ही काम करता था. मामलें में गिरफ्तार आरोपियों को आज एसटीएफ ने माननीय कोर्ट के समक्ष पेश किया. जहां मामले की जानकारी देते हुए एसटीएफ के डीएसपी कुलभूषण ने बताया कि गुप्त पुख्ता जानकारी पर हमारी टीम ने हिसार रोड पर स्तिथ घूंघट पैलेस पर छापेमारी की. यहां पर अवैध कॉल सेंटर चलाया जा रहा था. इस सेंटर में मौके पर सवा सौ के करीब युवक व युवतियां काम कर रहे थे. एसटीएफ की टीम ने वहां से 8 मुख्य संचालकों को गिरफ्तार कर लिया था. इसके इलावा इस गिरोह के मुख्य सरगना को सुबह तड़के गुरुग्राम से पकड़ लिया गया है. 8 लोगों को न्यायालय में पेश किया गया है.

अमेजन एकाउंट से विदेशियों को ठगते थे

इसके अलावा एसटीएफ अधिकारी ने बताया कि हमारी टीम ने वहां से 200 के करीब कंप्यूटर और कुछ कैश बरामद किया गया है. यह गोरखधंधा जनवरी से ही चलाया जा रहा था. यह लोग अमेजन एकाउंट (Amazon Account)) से विदेशी लोगों (Foreigners) को ठगी का शिकार बनाते थे. ये लोग कॉल करके खुद को अमेजन अधिकारी बताते थे और लोगो को उनका एकाउंट बंद होने से बचाने के लिए वाउचर खरीदने के लिए बोलते थे. जिसके बाद लोगों से उनका कार्ड नम्बर जान ठगी का शिकार बनाते थे. घूंघट मैरिज पैलेस मालिक से भी इस मामले में पूछताछ की जाएगी. अगर कोई गड़बड़ी पाई जाती है तो उसके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज