COVID-19: अनिल विज ने कहा- दिल्ली में सुविधाएं नहीं, इसलिए हरियाणा आ रहे कोरोना मरीज

हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने राज्य में लॉकडाउन की संभावना से इनकार किया है.

हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने राज्य में लॉकडाउन की संभावना से इनकार किया है.

Anil Vij Attacks CM Arvind Kejriwal: एनसीआर में बढ़ते कोरोना मरीजों की बात पर अनिल विज ने कहा कि हरियाणा में जितने भी मरीज आ रहे हैं वे केवल तीन जिलों से हैं. उन्होंने बताया कि गुरुग्राम, फरीदाबाद व सोनीपत में कुल हरियाणा के 50 प्रतिशत मरीज हैं.

  • Share this:
अंबाला. लगातार बढ़ते कोरोना के मरीजों के बाद देशभर में संसाधनों की कमी के सवाल पर हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज (Anil Vij) ने दिल्ली के सीएम अरविद केजरीवाल पर निशाना साधा और कहा कि वह विज्ञापन पर पैसा खर्च कर रहे हैं, यदि कोई संसाधन की कमी है तो वह व्यवस्था कर लें, जो वह विज्ञापन पर खर्च कर रहे हैं, वह दवाइयों पर खर्च कर ले. वहीं विज ने कहा कि जितनी भी गैर भाजपा सरकारें हैं, वह संसाधन न होने का झूठा प्रचार कर रही हैं, जबकि संसाधन उपलब्ध करवाना प्रदेश सरकारों का काम है.

संसाधनों की कमी को लेकर उठाए जा रहे सवाल पर अनिल विज ने कहा कि जितनी भी विपक्ष की सरकारें हैं वह जान बूझ कर यह मुद्दा उठा रहे हैं, जबकि संसाधन उपलब्ध करवाने का दायित्व उनकी सरकारों का है. विज ने कहा कि केजरीवाल विज्ञापन पर पैसा खर्च कर रहे हैं. यदि कोई संसाधन की कमी है तो वह व्यवस्था कर लें, जो वह विज्ञापन पर खर्च कर रहे हैं, वह दवाईयों पर खर्च कर ले. यदि कोई दवाई हिंदुस्तान से नहीं मिल रही तो उसे विदेश से मंगवा लें,

तीन जिलों में ज्यादा मरीज

एनसीआर में लगातार मरीजों की संख्या सामने आने पर अनिल विज ने तर्क दिया कि हरियाणा में जितने भी मरीज आ रहे हैं, वह केवल तीन जिलों से हैं. उन्होंने बताया कि गुरुग्राम, फरीदाबाद व सोनीपत में कुल हरियाणा के 50 प्रतिशत मरीज हैं. दिल्ली में मरीजों को सुविधाएं नहीं मिल पा रही, जिसके कारण वह हरियाणा में आ रहे हैं, हम मरीजों को धक्का तो नहीं मार सकते और हम सभी को सुविधाएं व इलाज देने का प्रयास कर रहे हैं. हरियाणा में कोरोना के मरीजों को देखते हुए सरकार की तैयारियों को लेकर अनिल विज ने कहा कि सरकार पूरी तरह से अलर्ट है और सभी आवश्यक कदम उठाए जा रहे हैं. कोरोना को लेकर स्टेट व जिला स्तर पर मॉनिटरिंग कमेटी गठित की गई है और जो भी दायित्व दिए गए हैं, उसका निर्वाह किया जा रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज