खबर का असर : फैमिली ID जमा करने का आदेश सरकार ने वापस लिया

सरकारी कर्मचारियों को 29 जुलाई तक फैमिली आईडी जमा करने का फरमान सरकार ने वापस ले लिया है. अब फैमिली आईडी नहीं जमा कर पाने वाले सरकारी कर्मचारियों की इस महीने की पगार नहीं रोकी जाएगी.

Krishna Bali | News18 Haryana
Updated: July 29, 2019, 5:02 PM IST
खबर का असर : फैमिली ID जमा करने का आदेश सरकार ने वापस लिया
फैमिली ID जमा करने का आदेश सरकार ने वापस लिया
Krishna Bali | News18 Haryana
Updated: July 29, 2019, 5:02 PM IST
सरकारी कर्मचारियों को 29 जुलाई तक फैमिली आईडी जमा करने का फरमान सरकार ने वापस ले लिया है. अब फैमिली आईडी नहीं जमा कर पाने वाले सरकारी कर्मचारियों की इस महीने की पगार नहीं रोकी जाएगी. दरअसल, सरकार ने सभी कर्मचारियों को फैमली आईडी जमा करवाने का नोटिस दिया था. नोटिस में लिखा है कि जो सरकारी कर्मचारी 29 जुलाई से पहले फैमिली आईडी जमा नहीं करवाएंगे, उन्हें इस महीने की पगार नहीं मिलेगी. बता दें कि न्यूज 18 ने इस खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया था. जिसके बाद सरकार ने अपना तुगलगी फरमान वापस ले लिया है.

दरअसल, अंबाला के ट्रेजरी विभाग की सूचना बोर्ड पर एक नोटिस चस्पा किया गया था. जिसमें निर्देश दिया गया था कि सभी कर्मचारियों को 29 जुलाई से पहले पहले फैमिली आईडी अपने विभाग के अधिकारियों के पास जमा कर दें. नोटिस में यह भी लिखा था कि अगर 29 जुलाई से पहले-पहले सरकारी कर्मचारी (स्थाई या अस्थाई) फैमिली आईडी जमा नहीं करते हैं तो उनकी सैलरी रोक दी जाएगी.

सभी कर्मचारियों को 29 जुलाई से पहले पहले फैमिली आईडी अपने विभाग के अधिकारियों के पास जमा कर दें.


सरकार के इस फैसले के बाद कर्मचारियों में नाराजगी थी. न्यूज 18 ने जब नोटिस के बारे में ट्रेजरी विभाग के कर्मचारियों से बात की तो कर्मचारियों ने  बताया कि वह तो अपने आलाधिकारियों के आदेश का पालन कर रहे हैं. उन्हें जो आदेश मिले थे उसकी के आधार पर ये नोटिस ट्रेजरी की डिस्पले विंडो पर चिपकाया है.

ये भी पढ़ें-फैमिली ID जमा नहीं करने पर कर्मचारियों की बढ़ सकती है मुसीबत

ये भी पढ़ें- IT रेड में बिश्नोई के पास करोड़ों की विदेशी संपत्ति उजागर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अंबाला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 29, 2019, 5:01 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...