लाइव टीवी

फेसबुक पर लड़की से दोस्ती कर हनीट्रैप का शिकार हुआ एसडीओ, गिरोह का हुआ खुलासा

News18 Haryana
Updated: September 10, 2019, 2:52 PM IST
फेसबुक पर लड़की से दोस्ती कर हनीट्रैप का शिकार हुआ एसडीओ, गिरोह का हुआ खुलासा
अंबाला जिले में पीएचईडी के एसडीओ को फेसबुक पर लड़की से दोस्ती करना पड़ गया महंगा

अंबाला जिले के नारायणगढ़ में तैनात पब्लिक हेल्थ इंजीनियरिंग विभाग (PHED) के एसडीओ जफर इकबाल को फेसबुक पर दोस्ती कर हनीट्रैप का शिकार बनाने वाले गिरोह का पुलिस ने पता लगा लिया है. इकबाल भी अपहर्ताओं के चंगुल से मुक्त हो गए हैं.

  • Share this:
अंबाला. फेसबुक (Facebook) पर अनजान लड़की की फ्रेंड रिक्वेस्ट (Friend Request) स्वीकार कर उसके साथ चैटिंग (chatting ) करना नारायणगढ़ के पब्लिक हेल्थ इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट (PHED) के एसडीओ (SDO) जफर इकबाल को महंगा पड़ गया. वास्तव में इकबाल को एक गिरोह ने ब्लैकमेल (black mail) करने के लिए हनीट्रैप (honey trap) किया था. इस गिरोह का मकसद इकबाल से मोटी रकम ऐंठना था. पुलिस इस गिरोह में शामिल दो लड़कियों और तीन लड़कों की पहचान कर चुकी है. लड़कियां नारायणगढ़ की हैं और लड़के यमुनानगर के रहने वाले हैं. इनमें से एक लड़का पहले बाइक चोर था. अब इनकी गिरफ्तारी होने वाली है.

इस तरह से जाल में फंसाया
हाल में नारायणगढ़ में पदस्थापित हुए इकबाल को फेसबुक पर परमजीत परम नाम की लड़की की आईडी से फ्रेंड रिक्वेस्ट मिली. इकबाल ने इस रिक्वेस्ट को स्वीकार कर लिया. परमजीत ने मैसेंजर पर इकबाल से बातें करनी शुरू कर दी. परमजीत ने गत चार सितंबर को खुद को मुसीबत में बताकर  इकबाल को नारायणगढ़ रोड पर बुलाया. इकबाल के वहां पहुंचने पर ज्योति नाम की एक और लड़की परमजीत के साथ हो गई. दोनों लड़कियां इकबाल के साथ कार में बैठीं तभी दो युवक भी आकर कार में सवार हो गए. इस तरह इकबाल को सबने मिलकर बंधक बना लिया और एक जगह ले जाकर 10 लाख रुपये की डिमांड करने लगे. पैसे नहीं देने पर इकबाल को टॉर्चर करने लगे. पैसे की डिमांड घटते-घटते तीन लाख रुपए पर आ गई.

हनीट्रैप के जरिए अगवा किए गए पीएचईडी के एसडीओ को पुलिस ने छुड़ाया (सांकेतिक तस्वीर)


अपहरण हो जाने के मैसेज भेजा 

इसके बाद इकबाल रुपए देने के लिए राजी हो गए और अपहर्ताओं के सामने अपने दोस्त जगदीप को फोन कर बहाने से तीन लाख रुपए दोसड़का चौक पर लाने को कहा. इसी बीच इकबाल ने दूसरे मोबाइल फोन से जगदीप को अपना अपहरण हो जाने का मैसेज भेजा. जयदीप ने इसकी पुलिस को सूचना दे दी. फिर पुलिस ने साइबर सेल के जरिए अपहर्ताओं की तलाश शुरू की. पुलिस ने बंधक बनाए गए इकबाल को यमुनानगर के छछरौली के पास से छुड़ा लिया है. अपहर्ता भाग निकले लेकिन पुलिस अब इस गिरोह में शामिल सबकी पहचान कर चुकी है और कभी भी इनकी गिरफ्तारी हो सकती है.

ये भी पढ़ें- अवैध संबंधों के चलते पत्नी ने करवाई थी पति की हत्या, तीन आरोपी गिरफ्तार
Loading...

छात्रा से छेड़छाड़ बाद दो पक्ष भिड़े, ग्रामीणों ने जड़ा स्कूल में ताला

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अंबाला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 10, 2019, 2:27 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...