लाइव टीवी

अंबाला: इनेलो नेता के भतीजे को हिरासत में लेने पहुंची पुलिस तो पूर्व मंत्री निर्मल सिंह के साथ हुई नोक झोंक

Krishna Bali | News18 Haryana
Updated: December 20, 2019, 3:37 PM IST
अंबाला: इनेलो नेता के भतीजे को हिरासत में लेने पहुंची पुलिस तो पूर्व मंत्री निर्मल सिंह के साथ हुई नोक झोंक
इनेलो नेता के भतीजे को हिरासत में लेने पुलिस पहुंची तो हंगामा

पुलिस (Police) को 6 घंटे तक नेताओं के हाईवोल्टेज ड्रामे (High voltage ) का सामना करना पड़ा. आरोपी वकील को हिरासद में लेने के लिए पुलिस शुक्रवार सुबह लगभग 5 बजकर 30 मिनट पर पहुंची तो मौके पर ओंकार सिंह और पूर्व मंत्री निर्मल सिंह पुलिसिया कार्रवाई के आगे अड़ गए.

  • Share this:
अंबाला. इनेलो (Indian National Lokdal) नेता ओंकार सिंह के वकील भतीजे पर फर्जी म्यूटेशन करवाने और फर्जी दस्तावेज बनवाने के आरोपों के चलते पुलिस उसे हिरासत में लेने पहुंची. लेकिन मौके पर इनेलो के प्रदेश प्रवक्ता एवं अंबाला छावनी से उम्मीदवार रहे ओंकार सिंह और पूर्व मंत्री निर्मल सिंह ने हाई वोल्टेज ड्रामा खड़ा कर दिया.

पुलिस को 6 घंटे तक नेताओं के हाई वोल्टेज ड्रामे का सामना करना पड़ा. आरोपी वकील को हिरासद में लेने के लिए पुलिस शुक्रवार सुबह लगभग 5 बजकर 30 मिनट पर पहुंची तो मौके पर ओंकार सिंह और पूर्व मंत्री निर्मल सिंह पुलिसिया कार्रवाई के आगे अड़ गए, जिसके बाद दोनों नेताओं और पुलिस के बीच तीखी नोक-झोंक और विरोध देखने को मिला. लगभग 6 घंटे चले इनेलो के प्रदेश प्रवक्ता एवं अंबाला छावनी से उम्मीदवार रहे ओंकार सिंह और निर्मल सिंह के हाई वोल्टेज ड्रामे के बाद एक्शन में आई पुलिस ने पूर्व मंत्री निर्मल सिंह और इनेलो नेता को सरकारी काम में बाधा पहुंचाने के चलते हिरासत में लेकर आरोपी वकील का दरवाजा खुलवाया.

वहीं इस पूरे ड्रामे के दौरान जहां वकील की गिरफ्तारी रुकवाने के लिए दोनों नेता ओंकार सिंह के भतीजे के घर के बाहर अड़े रहे, वहीं वकील परमिंदर सिंह घर के दरवाजे बंद कर घर के अंदर ही बैठा रहा. 6 घंटे की कड़ी मशक्क्त के बाद पुलिस ने वकील को हिरासत में लेने में सफलता हासिल की.

पूछताछ के लिए हिरासत में लेने के लिए पहुंची थी पुलिस

जानकारी देते हुए DSP ने बताया कि धारा 420 के तहत दर्ज एक मामले में महिला की गिरफ्तारी हुई है. महिला के बयानों के बाद परमिंदर सिंह नाम के व्यक्ति से पूछताछ के लिए पुलिस पहुंची थी लेकिन उनके द्वारा पुलिस की कार्रवाई में बाधा पहुंचाई गई. DSP ने बताया कि फिलाहल परमिंदर को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है और अगर जांच में इसके खिलाफ सुबूत सामने आये तो उन्हें गिरफ्तार भी किया जायेगा.

पूर्व मंत्री ने कही ये बात

पुलिसिया कार्रवाई को सियासी रंग देने पहुंचे और पुलिस की कार्रवाई में बाधा पहुंचाने वाले पूर्व मंत्री निर्मल सिंह और इनेलो नेता ओंकार सिंह को पुलिस हिरासत में लेकर पंजोखरा थाना पहुंची. लेकिन वहां दोनों को चेतावनी देकर छोड़ दिया गया. पूर्व मंत्री ने बताया कि पुलिस ने जो तरीका अपनाया वो सही नहीं था. पुलिस के साथ तीखी बहस करने वाले और पुलिस को अपने भतीजे परमिंदर सिंह तक न पहुंचने देने के प्रयास में जुटे इनेलो नेता ओंकार सिंह भी सफाई देते नजर आये और कहा कि कोई मामला दर्ज हुआ है तो उसकी जानकारी में ये नहीं है. लेकिन पुलिस गिरफ्तार महिला के बयानों के बाद उनके भतीजे को हिरासत में लेने पहुंची.ये भी पढ़ें:- 'बुलेट' में पटाखे बजाने से रोकने पर युवक की तेजधार हथियार से गला रेतकर हत्या

ये भी पढ़ें:- चंडीगढ़: किराए के मकान में रह रहे दो छात्रों पर फायरिंग, दोनों की मौत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अंबाला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 20, 2019, 3:31 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर