निकिता मर्डर केस: लव जिहाद के एंगल से भी होगी जांच, हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने दिए आदेश

बल्लभगढ़ में छात्रा की गोली मारकर हत्या
बल्लभगढ़ में छात्रा की गोली मारकर हत्या

Nikita Murder Case: हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि आरोपियों के रिश्तेदार कांग्रेसी हैं और साल 2018 में निकिता के परिजनों पर अपहरण का केस वापस लेने का दबाव बनाया गया होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 28, 2020, 1:45 PM IST
  • Share this:
अंबाला. फरीदाबाद के बल्लभगढ़ में सरेआम हुई छात्रा की हत्या से प्रदेश के गृह मंत्री अनिल विज (Anil Vij) बेहद नाराज हैं. विज ने मंगलवार को ही इस मामले में एसआईटी (SIT) गठन करने का आदेश दिया था. इसके साथ ही उन्‍होंने SIT को लव जिहाद के एंगल से भी इस हत्‍याकांड की जांच करने के आदेश दिए हैं. अब 2018 में निकिता के अपहरण की भी जांच होगी. अनिल विज ने कहा कि आरोपियों के रिश्तेदार कांग्रेसी हैं और उन्हें अंदेशा है कि 2018 में कांग्रेसियों ने दबाव बनाकर परिवार से शिकायत वापस करवाई होगी. विज ने कहा कि प्रदेश की बेटियों को सिसक-सिसक कर मरने नहीं दूंगा.

निकिता की मां ने सरकार से मांग की है कि जैसे उनकी बेटी को मारा गया है, इसी तरह से पुलिस आरोपियों का भी एनकाउंटर करे. वहीं, उनका कहना है कि अगर इसी तरह 20 साल तक बेटियों को पालने के बाद उनकी कोई हत्या कर देगा तो फिर कोई बेटी क्यों पैदा करना चाहेगा. लोग बेटी पैदा होते ही मार देंगे. मृतका की मां बार-बार आरोपियों के एनकाउंटर की मांग कर रही हैं.

ये है मामला
हरियाणा में फरीदाबाद के बल्लभगढ़ में सोमवार को अग्रवाल कॉलेज के बाहर 21 वर्षीय युवती की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. मृतक युवती का नाम निकिता है और वह परीक्षा देकर कॉलेज से बाहर निकल रही थी. इस दौरान बाहर सफेद रंग की आई-20 कार में मौजूद दो युवकों ने उसे जबरन किडनैप कर कार में बिठाने की कोशिश की थी.




तौसीफ ने मारी गोली


इस पर निकिता ने शोर मचाया और वहां से भागी तो आरोपी तौसीफ ने पीछा कर उसे नजदीक से गोली मार दी. गोली लगने से निकिता जमीन पर गिर पड़ी और उसकी मौत हो गई. निकिता के परिवारवालों का कहना है कि तौसीफ उससे धर्म परिवर्तन कर शादी करने का लगातार दबाव बना रहा था, लेकिन उनकी बेटी इससे इनकार कर रही थी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज