लाइव टीवी

पासपोर्ट अधिकारियों ने चेहरा देखकर पासपोर्ट बनाने से किया इनकार, कहा- नेपाली जैसी दिखती हो

Krishna Bali | News18 Haryana
Updated: January 3, 2020, 11:17 AM IST
पासपोर्ट अधिकारियों ने चेहरा देखकर पासपोर्ट बनाने से किया इनकार, कहा- नेपाली जैसी दिखती हो
चेहरा देख दो बहनों का पासपोर्ट बनाने से किया इनकार

पासपोर्ट कार्यालय (Passport Office) में अफसरों की टप्पणी के बाद निराश हुई संतोष ने अपनी परेशानी को लेकर हरियाणा के गृह मंत्री (Haryana's Home Minister) से भी मुलाकात की. जिसके बाद अंबाला के उपायुक्त ने मामले में खुद संज्ञान लिया और पासपोर्ट कार्यालय के अधिकारीयों को दोनों बहनों का पासपोर्ट बनाने के आदेश दिए.

  • Share this:
अंबाला. पासपोर्ट (Passport) बनवाने के लिए चंडीगढ़ (Chandigarh) गई दो सगी बहनों के साथ अजीब वाक्या हुआ. भारत में जन्मी, बड़ी हुई और पढ़ी दोनों बहने जब पासपोर्ट कार्यालय (Passport Office) पहुंची तो वहां बैठे अधिकारीयों (Officers) ने बिना इनके दस्तावेज देखे इनका चेहरा देखकर ही ये तय कर लिया कि इनका पासपोर्ट नहीं बनाया जा सकता.

अधिकारियों ने इनके दस्तावेजों पर ऐसी टिप्पणी कर दी कि जिसे सुनकर खुद अंबाला के उपायुक्त भी हैरान रहे गए.  बता दें कि संतोष के पास आधार कार्ड, पैन कार्ड और कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी की डिग्री भी है. लेकिन पासपोर्ट कार्यालय में उसके दस्तावेज देखे बिना ही उसे नेपाली करार दे दिया गया.

अंबाला में हुआ जन्म, कुरुक्षेत्र में की पढ़ाई

बता दें कि संतोष कने अंबाला में ही जन्म लिया और कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी से पढ़ाई पूरी की. यूं तो संतोष अपने पिता के बुटीक में ही काम करवाती है. लेकिन कुछ समय पहले सुषमा ने विदेश जाकर पढाई करने का सपना देखा, जिसके बाद सुषमा ने पासपोर्ट सेवा केंद्र से पासपोर्ट बनवाने की प्रक्रिया सभी दस्तावेज देकर शुरू की और फिर सुषमा को पासपोर्ट ऑफिस बुलाया गया.

पासपोर्ट अधिकारी ने फॉर्म में लिखी ये बात


एप्लिकेशन फॉर्म में की ये टिप्पणी

जहां सिर्फ इनका चेहरा देखकर ही इन्हे पासपोर्ट जारी करने से मना कर दिया गया और इनके पासपोर्ट एप्लिकेशन फॉर्म पर ये टिप्पणी कर दी गई कि "आवेदनकर्ता नेपाली लगता है" और इनका पासपोर्ट बनाने से मना कर दिया. संतोष ने बताया कि पासपोर्ट ऑफिस के अधिकारियों की टिप्पणी के बाद उन्होंने गृह मंत्री से भी गुहार लगाई और अंबाला के उपायुक्त ने मामले में खुद संज्ञान लेकर उनका पासपोर्ट बनवाने के आदेश दिए.गृह मंत्री अनिल विज ने दिए आदेश

पासपोर्ट कार्यालय में अफसरों की टप्पणी के बाद निराश हुई संतोष ने अपनी परेशानी को लेकर हरियाणा के गृह मंत्री से भी मुलाकात की. जिसके बाद अंबाला के उपायुक्त ने मामले में खुद संज्ञान लिया और पासपोर्ट कार्यालय के अधिकारीयों को दोनों बहनों का पासपोर्ट बनाने के आदेश दिए. उपायुक्त ने बताया कि जब ये मामले उनके संज्ञान में आया तो उन्होंने पासपोर्ट ऑफिस के अधिकारीयों से पूछा कि ऐसे कौन से दस्तावेज हैं जो उन्हें चाहिए, जिसके बाद उपायुक्त ने स्वयं दोनों बहनों को फोन कर पासपोर्ट कार्यालय भेजा और अब इनके पासपोर्ट की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है.

ये भी पढ़ें:- 1 जून से भिवानी के लोगों को मिलेगी 24 घंटे बिजली 

ये भी पढ़ें:- खेतों से चारा लेने गई नाबालिग का अपहरण, जांच में जुटी पुलिस

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अंबाला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 3, 2020, 11:13 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर