पोस्टर्स के माध्यम से किया जा रहा राफेल का वेलकम, अंबाला के लोग उत्साहित
Ambala News in Hindi

पोस्टर्स के माध्यम से किया जा रहा राफेल का वेलकम, अंबाला के लोग उत्साहित
अंबाला के लोग इस तरह से कर रहे राफेल का स्वागत

अंबाला (Amala) में राफेल (Rafale) के स्वागत के लिए बाकायदा बैनर्स लगाएं गए हैं और पोस्टर्स के माध्यम से राफेल का वेलकम किया जा रहा है.

  • Share this:
अंबाला. राफेल (Rafale) का इंतज़ार आज खत्म होने वाला है. 5 राफेल लड़ाकू विमान आज फ्रांस (France) से अंबाला पहुंच रहे हैं. राफेल के दीदार को अंबाला के लोग भी उत्साहित दिख रहे हैं.अंबाला में राफेल के स्वागत के लिए बाकायदा बैनर्स लगाएं गए हैं और पोस्टर्स के माध्यम से राफेल का वेलकम किया जा रहा है. राफेल के आने से भारत की ताकत बढ़ने जा रही है तो वहीं अंबाला के लिये भी यह क्षण गौरव से कम नहीं है.

एयरफोर्स बेस के आसपास धारा 144 लागू

अंबाला एयरफोर्स स्टेशन (Ambala Air Force Station) के असपास के 4 इलाकों में धारा 144 लागू कर दी गई है. जारी किए गये आदेशों के तहत ऐयरफोर्स स्टेशन के नजदीक लगते धूलकोट, बलदेव नगर, गरनाला, पंजोखरा इत्यादि स्थानों से एयरफोर्स स्टेशन की किसी भी प्रकार की तस्वीर लेने पर प्रतिबन्ध लगाया गया है.



डीएसपी ने की पुष्टि
DSP मुनीष सहगल ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि पुलिस पूरी तरह से अलर्ट रहेगी और नाकेबन्दी की जाएगी. लोग उत्साह में फोटोग्राफी न करें इसका ध्यान रखा जाएगा. उन्होंने कहा कि यह राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ा मसला है, इसलिए एतिहातन यह कदम उठाए गए हैं.

27 जुलाई को फ्रांस से रवाना हुए थे 5 राफेल

27 जुलाई को फ्रांस (France) के मेरिग्नाक बेस से 5 राफेल लड़ाकू विमान (Rafale Fighter Jet) भारत के लिए रवाना हुए थे. भारतीय समयानुसार करीब 12:30 बजे विमानों ने उड़ान भरी और लगातार 7 घंटे तक उड़ान भरते हुए शाम को अबूधाबी (Abu Dhabi) के करीब अल-दफ्रा फ्रेंच एयरबेस पर पहुंचे.

आज पहुंचेंगे 5 राफेल

आज यानी 29 जुलाई को सुबह ये फाइटर अल-दफ्रा एयरबेस से अंबाला (Ambala) के लिए रवाना होंगे और मौसम अगर ठीक रहा तो दोपहर बाद किसी भी समय ये पांचों फाइटर जेट अंबाला एयरबेस (Ambala Air Base) पर लैंड करेंगे. सूत्रों के मुताबिक़ ग्रुप कैप्टन हरकीरत सिंह राफेल स्कवाड्रन के पहले कमॉडिंग ऑफ़िसर होंगे. वो पांच अन्य पायलटों के साथ विमानों के लेकर आ रहे हैं. इन सभी पायलटों की ट्रेनिंग तकरीबन एक साल से फ्रांस में जारी थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading