हरियाणा विधानसभा चुनाव: जिस मेवात में कमजोर थी BJP, यहां के तीनों मुस्लिम विधायक हो गए भाजपाई!

जिस मेवात में कमजोर थी BJP, यहां के तीनों मुस्लिम विधायक हो गए भाजपाई! दूसरी पार्टियों के 14 विधायक भाजपा में आए, मनोहरलाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) का राजनीतिक दांव समझ नहीं पाए विपक्षी दल!

ओम प्रकाश | News18Hindi
Updated: August 12, 2019, 9:23 AM IST
हरियाणा विधानसभा चुनाव: जिस मेवात में कमजोर थी BJP, यहां के तीनों मुस्लिम विधायक हो गए भाजपाई!
हरियाणा में विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी ने तोड़ी इनेलो की कमर!
ओम प्रकाश
ओम प्रकाश | News18Hindi
Updated: August 12, 2019, 9:23 AM IST
सितंबर के दूसरे सप्ताह तक हरियाणा विधानसभा चुनाव (Haryana Assembly Election) घोषित हो जाएंगे. इससे पहले बीजेपी (BJP) अपना कुनबा मजबूत करने में जुटी हुई है. कोशिश यह है कि किसी भी पार्टी का बड़ा-छोड़ा कोई कार्यकर्ता बीजेपी में आने की कोशिश करे तो उसे शामिल कर लो. इससे विपक्ष पहले से भी कमजोर पड़ जाएगा. 90 सीटों में से 75 प्लस का नारा इसी तरह सफल होगा. इसी रणनीति पर चलते हुए भाजपा ने दूसरी पार्टियों के 14 विधायक अपने पाले में कर लिए हैं. इनेलो (INLD) की तो जैसे कमर ही टूट गई है. अब उसके सिर्फ सात विधायक ही बचे हैं. यहां तक कि मुस्लिम बहुल मेवात (Mewat) के सभी गैर भाजपाई एमएलए (MLA) अब भाजपाई हो चुके हैं. कई और लाइन में हैं. दूसरी पार्टियों के पूर्व विधायक समझ नहीं पा रहे कि वो चुनाव मैदान में उतरें या नहीं.

कांग्रेस (Congress) संगठन विहीन है और नई पार्टियों का अब तक कुछ पता नहीं. 2014 में सीएम बनने से पहले आरएसएस (RSS) प्रचारक के रूप में काम कर रहे मनोहरलाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) ऐसा राजनीतिक दांव खेलेंगे किसी भी पार्टी के रणनीतिकार को अंदाजा नहीं था.

upcoming assembly elections, haryana assembly election, vidhan sabha chunav 2019, bjp, congress, inld, Manohar Lal Khattar, आगामी विधानसभा चुनाव, हरियाणा विधानसभा चुनाव 2019, बीजेपी, कांग्रेस, इनेलो, मनोहर लाल खट्टर, Narendra Singh Tomar, मेवात, mewat,
2014 से पहले आरएसएस प्रचारक थे मनोहरलाल खट्टर


अब मुस्लिम बहुल मेवात के सभी एमएलए भाजपाई

मुस्लिम बहुल मेवात के चार मौजूदा विधायक बीजेपी में आ गए हैं. लोकसभा चुनाव के आंकड़ों का यदि विधान सभावार विश्लेषण किया जाए बीजेपी सबसे ज्यादा कमजोर जाट और मुस्लिम बहुल क्षेत्रों में ही थी. पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला इन्हीं क्षेत्रों में संगठन मजबूत करने में जुटे हुए हैं. वो खुद जाट कम्युनिटी से आते हैं. उन्होंने कई जाट विधायकों को पार्टी में शामिल करवा लिया है.

मुस्लिम बहुल मेवात में भी उसका रास्ता आसान हो गया है. यहां के सभी मुस्लिम विधायक भाजपाई हो चुके हैं. हालांकि दूसरी पार्टी छोड़कर बीजेपी में आने वाले किसी भी विधायक को पार्टी ने चुनाव में टिकट देने का वादा नहीं किया है. पार्टी पुराने कार्यकर्ताओं पर ही दांव लगाएगी.

चुनाव से पहले भाजपा की शरण आने वाले विधायक
Loading...

>>पुन्हाना से निर्दलीय विधायक रईसा खान

>>नूंह से इनेलो विधायक जाकिर हुसैन

>>फिरोजपुर झिरका से इनेलो विधायक नसीम अहमद

>>हथीन से इनेलो एमएलए केहर सिंह रावत

>>फरीदाबाद-एनआईटी से इनेलो विधायक नगेंद्र भड़ाना

>>फरीदाबाद-पृथला से बसपा विधायक टेकचंद शर्मा

>>जींद के जुलाना से इनेलो विधायक परमिंदर सिंह ढुल

>>रानियां से इनेलो विधायक रामचंद्र कंबोज

>>सिरसा से इनेलो विधायक मक्खन लाल सिंगला

>>फतेहाबाद से इनेलो विधायक बलवान सिंह दौलतपुरिया

>>हिसार-नलवा से इनेलो विधायक रणबीर सिंह गंगवा

>>फतेहाबाद के रतिया से इनेलो विधायक रविंद्र बलियाला

>>सफीदों से निर्दलीय विधायक जसबीर देसवाल

>>समालखा से निर्दलीय विधायक रविंद्र मछरौली

upcoming assembly elections, haryana assembly election, vidhan sabha chunav 2019, bjp, congress, inld, Manohar Lal Khattar, आगामी विधानसभा चुनाव, हरियाणा विधानसभा चुनाव 2019, बीजेपी, कांग्रेस, इनेलो, मनोहर लाल खट्टर, Narendra Singh Tomar, मेवात, mewat,
हरियाणा बीजेपी के अध्यक्ष सुभाष बराला


90 सीटों का गणित

हरियाणा में विधानसभा की 90 सीटें हैं. लोकसभा चुनाव की वोटिंग के हिसाब से बीजेपी इनमें से सिर्फ 11 सीटों पर ही अन्य पार्टियों से पीछे थी. ये 11 सीटें जाट एवं मुस्लिम बहुल क्षेत्रों की थीं. अब पार्टी ने मेवात के कई बड़े मुस्लिम नेताओं को पार्टी में शामिल कर लिया है. यहां पर पार्टी ने 75 प्लस का नारा दिया है. इस समय बीजेपी के पास अपनी 48 सीट हैं. सितंबर-अक्टूबर में चुनाव होने की संभावना है.

दूसरे दलों से बीजेपी में आने के इच्छुक नेताओं का दिल खोलकर स्वागत किया जा रहा है. जितने लोग आएंगे पार्टी उतनी ही मजबूत होगी. पार्टी प्रवक्ता राजीव जेटली का कहना है कि बीजेपी लगातार जनता के लिए काम कर रही है, इसलिए हमारा कारवां बढ़ता जा रहा है.

ये भी पढ़ें:

हरियाणा, महाराष्ट्र, झारखंड में बीजेपी ने बनाया सबसे बड़ी जीत का प्लान!

हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर की इस चिट्ठी में क्या है?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 12, 2019, 7:25 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...