Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    Nikita Murder: परिजनों का आरोप- राहुल राजपूत के नाम से निकिता से मिलता था तौसीफ

    मृतक निकिता का फोटो.
    मृतक निकिता का फोटो.

    Ballabgarh Murder Case: तौसीफ का मामा एक शातिर अपराधी है. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के एक इंस्पेक्टर को किडनैप करने के आरोप में वह जेल में है. आरोप है कि मामा के दोस्त का तंमचा इस वारदात में इस्तेमाल किया था.

    • News18Hindi
    • Last Updated: October 29, 2020, 8:22 AM IST
    • Share this:
    नई दिल्ली. निकिता हत्याकांड (Nikita Murder Case) में उसके घर वालों ने आरोपी तौसीफ के बारे में एक और बड़ा खुलासा किया है. घर वालों का कहना है कि हत्‍या का आरोपी तौसीफ निकिता से राहुल राजपूत के नाम से मिलता था. लेकिन, साल 2018 में ही उसकी असलियत सामने आ गई थी. इसके बाद निकिता ने उससे दूरी बना ली थी. तौसीफ ने निकिता से दोस्ती की बहुत कोशिश की थी, लेकिन निकिता ने उससे कभी बात नहीं की. इसी खुन्नस में तौसीफ निकिता को किडनैप (Kidnap) करके ले जाना चाहता था. हालांकि, वह अपनी इस चाल में कामयाब नहीं हो सका.

    पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए दूसरे आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया है. पकड़ा गया रेहान नूंह जिले का रहने वाला है. मंगलवार को पुलिस ने दोनों आरोपियों तौसीफ और रेहान को कोर्ट में पेश किया, जहां से उन्हें दो दिन की पुलिस रिमांड में भेज दिया गया है. मंगलवार को इस पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि दूसरे आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया गया है. दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

    यह भी पढ़ें- लोन मोरेटोरियम: चश्मा बेचने वाले एक शख्स ने 16 करोड़ लोगों को कराया 6500 करोड़ रुपये का फायदा



    राज्य के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा है कि घटना में शामिल दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. साथ ही पुलिस ने वारदात में इस्तेमाल हथियार को भी बरामद कर लिया है. उन्होंने कहा कि इस मामले की जांच एसीपी क्राइम अनिल कुमार की अध्यक्षता में एसआईटी कर रही है. विज ने कहा कि हमारी कोशिश होगी कि मामले की जल्दी जांच करवाकर पीड़ित परिवार को इंसाफ दिलाया जाए.
    सोमवार को कॉलेज के बाहर छात्रा को सरेआम मार दी थी गोली
    हरियाणा में फरीदाबाद के बल्लभगढ़ में सोमवार को अग्रवाल कॉलेज के बाहर 21 वर्षीय युवती की गोली मारकर हत्या कर दी गई. उस वक्‍त निकिता परीक्षा देकर कॉलेज से बाहर निकल रही थी. इस दौरान बाहर सफेद रंग की आई-20 कार में मौजूद दो युवकों ने उसे जबरन किडनैप कर कार में बिठाने की कोशिश की.

    इस पर निकिता ने शोर मचाया और वहां से भागी तो आरोपी तौसीफ ने पीछा कर उसे नजदीक से गोली मार दी. गोली लगने से निकिता जमीन पर गिर पड़ी और उसकी मौत हो गई. निकिता के परिवारवालों का कहना है कि तौसीफ उससे धर्म परिवर्तन कर शादी करने का लगातार दबाव बना रहा था. लेकिन उनकी बेटी इससे इनकार कर रही थी.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज