लाइव टीवी

हरियाणा: नकल रहित परीक्षाएं करवाने में बेबस हुआ शिक्षा बोर्ड, 2450 मामले हुए दर्ज
Bhiwani News in Hindi

Jagbir Ghangas | News18 Haryana
Updated: March 17, 2020, 10:24 AM IST
हरियाणा: नकल रहित परीक्षाएं करवाने में बेबस हुआ शिक्षा बोर्ड, 2450 मामले हुए दर्ज
हरियाणा बोर्ड परीक्षाओं में बार-बार पेपर व्हाट्सएप पर हो रहे लीक

शिक्षा बोर्ड के चेयरमैन (Chairman) डॉ. जगबीर सिंह से बात की तो उन्होने बताया कि परीक्षाओं को शांतिपूर्वक करवाने के लिए हर तरह के प्रबंध किए गए हैं. उन्होंने बताया कि अब तक प्रदेश भर में 2450 नकल के मामले दर्ज (Case Registered) किए गए हैं.

  • Share this:
भिवानी. हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड के लाख प्रयासों के बाद भी 10वीं व 12वीं की परीक्षाओं (Examinations) में  नकल और पेपर आउट (Paper Out) होने के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे. इन पर रोकथाम के लिए शिक्षा बोर्ड प्रशासन (Board Administration) बेबस नजर आ रहा है. हालांकि बोर्ड प्रशासन का दावा है कि भले ही पेपर आऊट हो पर केन्द्रों के अंदर तक नकल नहीं जाती. साथ ही उम्मीद है कि जल ही पेपर आउट करने वाले गिरोह का खुलासा होने वाला है.

बता दें कि इस बार हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड द्वारा आयोजित 10वीं व 12 वीं की परीक्षाओं के लिए प्रदेश भर में 1685 परीक्षा केन्द्र बनाए गए हैं जिनमें 7 लाख 41 हजार 460 बच्चे अलग-अलग दिनों में अलग-अलग विषयों की परीक्षाएं दे रहे हैं. इन परीक्षाओं को नकल रहीत व बिना किसी बाधा के संपन्न करवाने के लिए शिक्षा बोर्ड ने हाईटेक प्रबंधन करते हुए 327 उड़नदस्तों की टीम गठित की हुई है. इतने बड़े तामझाम, जिला प्रशासन, पुलिस व पंचायतों के सहयोग के बाद भी शिक्षा बोर्ड इन परीक्षाओं को नकल रहित व बिना किसी बाधा के करवाने को लेकर बेबस नजर आ रहा है.

बोर्ड चेयरमैन ने कही ये बात



इस बारे में जब शिक्षा बोर्ड के चेयरमैन डॉ. जगबीर सिंह से बात की तो उन्होने बताया कि परीक्षाओं को शांतिपूर्वक करवाने के लिए हर तरह के प्रबंध किए गए हैं. उन्होंने बताया कि अब तक प्रदेश भर में 2450 नकल के मामले दर्ज किए गए हैं. 18 केन्द्रों की परीक्षा रद्द की गई है और 7 केन्द्रों को शिफ्ट किया गया है. यही नहीं 80 से ज्यादा अध्यापकों की लापरवाही पाए जाने पर उनके खिलाफ शिक्षा विभाग को कार्यवाई के लिए लिखा गया है.



बार-बार हो रहे पेपर आउट

बार-बार पेपर आउट होने के मामले पर चेयरमैन ने कहा कि सोमवार को हर परीक्षा केन्द्र पर चाक-चौबंध व्यवस्था की गई थी. पेपर भले आउट हुआ हो पर हल की हुई एक भी पर्ची केन्द्र के अंदर नहीं पहुंची. उन्होने कहा कि पेपर आउट होने के मामले में अभी तक 13 मोबाईल कब्जे में लेकर पुलिस को शिकायत दी गई है और इनकी जांच के बाद खुलासा होगा कि प्रदेश में पेपर आऊट करने वाला गिरोह कौन है. उसके बाद उसके खिलाफ कड़ी कार्यवाई की जाएगी.

पेपर आउट करने वाले गिरोह का हो सकता है खुलासा

फिलहाल शिक्षा बोर्ड प्रशासन लाख कोशिश के बाद भी परीक्षाओं को बिना किसी बाधा व नकल रहित करवाने पर बेबस है. बोर्ड प्रशासन ने महेन्द्रगढ से 9, हिसार से 2 और रोहतक व सोनिपत जिला से एक-एक मोबाइल फोन बरामद हुआ है, जिसकी पुलिस जांच कर रही है. शिक्षा बोर्ड प्रशासन के लिए पुलिस की ये जांच संजीवनी का काम कर सकती है, क्योंकि इसी जांच के बाद पेपर आउट करने वाले गिरोह का खुलासा हो सकता है.

ये भी पढ़ें: इस स्कीम से जुड़े पांच लाख किसान, एक रजिस्ट्रेशन से मिलेंगे कई लाभ

बड़े जल संकट की कगार पर रेवाड़ी, कुमारी शैलजा ने राज्यसभा में उठाया मुद्दा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भिवानी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 17, 2020, 10:24 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading