होम /न्यूज /हरियाणा /हरियाणा: डेढ़ साल बाद स्कूलों में लौटी रौनक, पहली से तीसरी तक के स्‍कूल भी खुले

हरियाणा: डेढ़ साल बाद स्कूलों में लौटी रौनक, पहली से तीसरी तक के स्‍कूल भी खुले

हरियाणा में खुले पहली से तीसरी कक्षाओं के स्कूल

हरियाणा में खुले पहली से तीसरी कक्षाओं के स्कूल

Schools Reopen in Haryana: बच्चों के स्कूल खुलने पर अभिभावक भी खुश दिखे. उन्होंने कहा कि छोटे बच्चों की पढ़ाई और भविष्य ...अधिक पढ़ें

भिवानी. कोरोना वायरस की महामारी की मार के बाद हरियाणा में आज से पहली से तीसरी कक्षा के बच्चों के भी स्कूल खुल गए हैं. आज से विभानी सहित हरियाणा (Haryana) के पहली से तीसरी तक के सभी स्‍कूल खुल (Schools Open) गए हैं, जिसमें करीब 6 लाख बच्चे पढ़ते हैं. हालांकि पहले दिन बच्चों की संख्या कुछ कम रही, लेकिन डेढ साल बाद आज प्रदेश के हर सरकारी व निजी स्कूलों में रौनक लौट आई. इससे बच्चे, अभिभावक व अध्यापक सभी खुश दिखे.

बता दें कि कोरोना महामारी की दस्तक के साथ मार्च 2019 में स्कूलों को बंद करना पड़ा था. महामारी की मार कम होने पर सरकार ने 9वीं से 12वीं कक्षा के स्कूल खोले तो फिर से दूसरी लहर का प्रकोप शुरू हो गया. इसके बाद फिर से स्कूल बंद कर दिये गए. अब दूसरी लहर कम होने पर पहले 9वीं से 12वीं, फिर 6ठी से 8वीं और उसके बाद चौथी व पांचवी कक्षा के बच्चों के लिए स्कूल खोले गए. इसके बाद आज से पहली से तीसरे कक्षा के स्कूल भी खोल दिये हैं.

बात करें हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड के एसआरएस लैब स्कूल की तो यहां डेढ साल बाद स्कूल पहुंचे मासूम बच्चों में काफी खुशी थी. सभी बच्चों को कोविड-19 के नियमों के साथ स्कूलों में प्रवेश करवाया गया. जिसके तहत अभिभावकों का अनुमति पत्र लाना, मास्क लगाना, अपनी पानी की बोतल लाना और किसी बच्चे से कोई सामान शेयर ना करने के साथ सोशल डिस्‍टेंसिंग की पालना सुनिश्चित की गई है. स्कूल पहुंचे बच्चों की थर्मल स्क्रीनिंग भी की गई.

बच्चों ने कही ये बात

स्कूल खुलने के बाद बच्चे काफी खुश थे. बच्चों ने बताया कि घर पर पढ़ाई नहीं हो पाती थी और वो बोर होने लगे थे. अब स्कूल आकर पढ़ेंगे, खेलेंगे और दोस्तों से मिलेंगे. वहीं अभिभावकों ने भी स्कूल खोलने के सरकार के फैसले का स्वागत किया है. अभिवकों ने बताया कि मासूम बच्चे ऑनलाइन पढाई नहीं कर पाते थे. घर रहते रहते पढ़ाई खराब हो रही थी और शरारती होने लगे थे. स्कूल में सावधानी व प्रबंध देखकर भी अभिभावक संतुष्ट दिखे.

अध्यापक भी दिखे खुश

वहीं स्कूल खुलने से अध्यापक भी खुश दिखे. पूजा नामक अध्यापिका ने बताया कि कोविड-19 के नियमों की पालना के साथ बच्चों का प्रवेश करवाया जा रहा है. जिसके तहत पहले कमरों को सैनिटाइज किया गया. इसके अलावा अभिभावकों की अनुमति से आए बच्‍चों के मास्क चेक करने के साथ थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है.

Tags: Coronavirus school kab khulega, Coronavirus school open news, Coronavirus school opening

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें