भाजपा के मंत्री की अमेरिकी राष्ट्रपति को नसीहत, बोले- ट्रंप हमारे देश की नहीं, अपनी चिंता करें

भाजपा के मंत्री ने डोनाल्ड ट्रंप के इस बयान पर किया पलटवार (PHOTO:AP)
भाजपा के मंत्री ने डोनाल्ड ट्रंप के इस बयान पर किया पलटवार (PHOTO:AP)

हरियाणा (Haryana) के कृषि मंत्री जेपी दलाल (JP Dalal) ने कहा कि अगली पीढ़ी को हम गंदी हवा-पानी नहीं दे सकते.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 26, 2020, 1:48 PM IST
  • Share this:
भिवानी. हरियाणा के कृषि मंत्री जेपी दलाल ने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) जलवायु को लेकर भारत की बजाए अपने देश की चिंता करें. हमारे देश के लिए हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) चिंता भी कर रहे हैं और प्रयास भी. उन्होंने कहा कि किसी भी देश की जलवायु अच्छी होनी बहुत ज़रूरी है, लेकिन इस समय हर साल हवा प्रदूषित हो जाती है. इसके बारे ट्रम्प से ज़्यादा हमारे पीएम मोदी चिंता करने के साथ सुधार के प्रयास भी कर कहे हैं. जेपी दलाल ने कहा कि अगली पीढ़ी को हम गंदी हवा-पानी नहीं दे सकते.

इसके साथ ही उन्होंने सब सही होते हुये भी भारतीय किसान यूनियन के आंदोलन को समझ से परे बताया. बता दें कि कृषि मंत्री जेपी दलाल अपने आवास पर जनता दरबार लगाकर लोगों की समस्याएं सुन रहे थे. इस दौरान उन्होंने मीडिया से रूबरू होते हुए अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप के साथ कांग्रेस नेताओं को भी भाषा की मर्यादा में रहने की नसीहत दी. इस दौरान बर्खास्त पीटीआई अध्यापकों ने मंत्री का घेराव करते हुए सरकार के ख़िलाफ़ जमकर नारेबाज़ी.

कुलदीप शर्मा के बयान पर कही ये बात



इसके साथ ही जेपी दलाल ने हरियाणा में बरोदा विधानसभा के उपचुनाव के दौरान कांग्रेस नेता कुलदीप शर्मा द्वारा की गई व्यक्तिगत बयान बाज़ी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि चुनाव आते जाते रहते हैं, लेकिन नेताओं को भाषा की मर्यादा नहीं भूलनी चाहिए. उन्होंने कहा किसी भी नेता द्वारा किसी जाति या गोत्र विशेष पर व्यक्तिगत कटाक्ष करने से आपसी भाईचारे व समाज का बंटवारा होता है.


बरोदा में भाजपा नंबर-1 पर

पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला द्वारा बरोदा उपचुनाव में इनेलो की जीत और मध्यावति चुनाव होने पर इनेलो की सरकार बनने के बयान पर जेपी दलाल ने कहा कि चुनाव में सब को अपना पक्ष रखने का अधिकार है, लेकिन बरोदा में भाजपा एक नंबर पर है. उन्होंने कहा कि बरोदा के लोगों के लिए सत्ता में भागीदारी करने का ये सुनहरा मौक़ा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज