होम /न्यूज /हरियाणा /

CWG Medal Winner: ब्रॉन्ज मेडल जीतकर भिवानी पहुंची बॉक्सर बेटी जैस्मिन, स्वागत में पहनाईं नोटों की मालाएं

CWG Medal Winner: ब्रॉन्ज मेडल जीतकर भिवानी पहुंची बॉक्सर बेटी जैस्मिन, स्वागत में पहनाईं नोटों की मालाएं

 ब्रोंज मेडल विजेता बॉक्सर जैस्मिन लंबोरिया जैसे ही भिवानी पहुंची उनका भव्य स्वागत हुआ.

ब्रोंज मेडल विजेता बॉक्सर जैस्मिन लंबोरिया जैसे ही भिवानी पहुंची उनका भव्य स्वागत हुआ.

Commonwealth Games 2022: कॉमनवेल्थ गेम्स में इस बार हरियाणा की बेटियों ने कमाल किया है. ब्रॉन्ज मेडल विजेता बॉक्सर जैस्मिन लंबोरिया जैसे ही भिवानी पहुंची उनका भव्य स्वागत हुआ. उन्हें नोटों की माला पहनाई गई. इस दौरान जैस्मिन ने कहा कि इस बार वह गोल्ड मेडल से चूकी हैं, लेकिन एशियन और ओलंपिक में गोल्ड जीतकर लाने की पूरी कोशिश होगी.

अधिक पढ़ें ...

भिवानी. कॉमनवेल्थ गेम्स में ब्रॉन्ज मेडल विजेता बॉक्सर जैस्मिन लंबोरिया का भिवानी पहुंचने पर भव्य स्वागत किया गया. महिला मुक्केबाज जैस्मिन की जीत पर पूरे शहर में विजय जुलूस निकाला गया. जैस्मिन व उनके कोच एवं चाचा संदीप लंबोरिया ने कहा कि वे अभी गोल्ड से चूके हैं, पर एशियन व ओलंपिक देश की झोली में जरूर गोल्ड मेडल डालेंगे. कॉमनवेल्थ गेम्स में हमारे देश के खिलाड़ियों ने जो कमाल किया उससे कहीं ज्यादा कॉमनवेल्थ में भिवानी की बेटियों के मुक्कों ने धमाल किया. बॉक्सर नीतू घनघस जहां गोल्ड लेकर आईं वहीं जैस्मिन लंबोरिया ब्रोंज मेडल लेकर भिवानी पहुंची.

भिवानी अपने घर पहुंचसने पर जैस्मिन का भव्य स्वागत हुआ. लोगों ने जैस्मिन के स्वागत में स्मृति चिन्ह व नोटों की मालाएं पहनाईं. फिर पूरे शहर में अपनी बेटी के सम्मान में विजय जुलूस निकाला गया. पूरे भिवानी शहर ने अपनी लाड़ली सिर आंखों पर बैठा कर ऐसा मान सम्मान किया कि वो हर बेटी के लिए प्रेरणा बनेगा.

कॉमनवेल्थ विजेता बॉक्सर जैस्मिन लंबोरिया ने कहा कि वो गोल्ड लाने के लिए बर्मिंघम गई थीं, पर पहली बार इतने बड़े आयोजन में ब्रॉन्ज आने पर भी खुश हैं. जैस्मिन ने अपनी जीत का श्रेय अपने कोच को दिया और कहा कि इस बार जो कमी रही उनसे सीख लेते हुए एशियन गेम्स में बेहतर प्रदर्शन करेंगी. उन्होंने हरियाणा सरकार द्वारा खिलाड़ियों के प्रोत्साहन करने पर आभार जताया और कहा कि हरियाणा सरकार खिलाड़ियों के लिए अच्छा काम कर रही है.

वहीं जैस्मिन के कोच एवं चाचा संदीप लंबोरिया ने कहा कि  उन्हें बेहद खुशी है कि जैस्मिन ने पहली बार में मेडल हासिल किया है. उन्होंने कहा कि इस बार जो कमियां रहीं उन्हें दूर करेंगे और आने वाले एशियन व ओलंपिक गेम्स में देश की झोली में गोल्ड मेडल डालेंगे. साथ ही कहा कि भिवानी में खेलों की सुविधाएं पूरी ना होने से पिछड़ापन है. यहां खेल यूनिवर्सिटी बन जाए तो खेल व खिलाड़ियों को बढ़ावा मिलेगा और मेडल ज्यादा आएंगे.

Tags: Bhiwani News, Commonwealth Games 2022, Haryana news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर