हरियाणा: CM के आदेशों की सरेआम अवहेलना, भिवानी में खुले सभी प्राइवेट स्कूल, बच्चों की पढ़ाई जारी

सीएम के आदेशों को नहीं मान रहे प्राइवेट स्कूल

सीएम के आदेशों को नहीं मान रहे प्राइवेट स्कूल

Corona virus: हरियाणा सरकार ने कोरोना के चलते स्कूल बंद रखने के आदेश दिये थे. 30 अप्रेल तक पहली से 8वीं के स्कूल बंद रखने के आदेश थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 12, 2021, 1:44 PM IST
  • Share this:
भिवानी. कोरोना के बढते ख़तरे के बावजूद प्राइवेट स्कूल संचालक सीएम मनोहर लाल के आदेशों की सरेआम धज्जियाँ उड़ा रहे हैं. बात करें भिवानी (Bhiwani) की तो यहां सभी प्राइवेट स्कूल (Private) खुले रहे. जबकि सीएम ने तीन रोज़ पहले पहली से आठवीं तक के सभी स्कूल बंद रखने के आदेश दिये थे. स्कूल संचालकों ने चेतावनी दी है कि कोई अधिकारी स्कूल बंद करवाने आया तो स्कूल में नहीं घुसने दिया जाएगा।.

बता दें कि कोरोना महामारी एक बार फिर अपना रंग दिखाने लगी है. हर रोज़ कोरोना का आँकड़ा पहले से भी ज़्यादा बढ़ने लगा है. जिसके चलते सीएम मनोहर लाल ने तीन रोज़ पहले गुरुग्राम में घोषणा की थी कि पहली से आठवीं तक के सभी स्कूल 30 अप्रेल तक बंद रहेंगे. पर आज सीएम के आदेशों की सरेआम अवहेलना हुई.

बता दें कि सीएम के आदेश करने के अगले ही दिन हरियाणा प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन ने एलान किया था कि वो किसी भी हाल में स्कूल बंद नहीं करेंगे. साथ ही 15 अप्रेल को स्कूल बसों की चाबी सभी डीसी को, 19 को शिक्षा बोर्ड के घेराव व 20 से शिक्षा बोर्ड की 10वीं व 12वीं की परीक्षाओं के बहिष्कार का एलान भी किया था. अपने एलान के मुताबिक़ निजी स्कूल संचालकों ने आज अपने अपने स्कूल खुले रखे और मासूम बच्चों की पढ़ाई जारी रखी।.

हरियाणा प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष राम अवतार शर्मा ने बहाना बनाया कि उनके पास स्कूल बंद करने के कोई लिखित आदेश नहीं आए हैं. साथ ही कहा कि कोई अधिकारी स्कूल बंद करवाने आया तो स्कूल में नहीं घुसने दिया जाएगा और स्कूल बंद करने के आदेश आए तो भी स्कूल बंद नहीं करेंगे. उन्होंने कहा कि स्कूल एक साल से बंद हैं और घाटे में हैं. ऐसे में कोरोना है तो फिर 12वीं तक के स्कूल बंद करने चाहिए और शिक्षा बोर्ड की परीक्षाएँ भी रद्द करनी चाहिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज