अपना शहर चुनें

States

हरियाणा: नशे की लत ने नाबालिग को बना दिया चोर, एक साल में चुराई 10 बाइक

नाबालिग के कब्जे से बरामद की गई बाइक
नाबालिग के कब्जे से बरामद की गई बाइक

नाबालिग (Minor) चोरी की बाइक को तेल ख़त्म होने तक चलाता था. तेल ख़त्म होने पर दूसरी बाइक (Bike) चुराता था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 21, 2021, 8:05 AM IST
  • Share this:
भिवानी. सीआईए-2 पुलिस ने एक ऐसे नाबालिग (Minor) को अभिरक्षा में लिया है, जिसने पढ़-लिख कर अच्छा इंसान बनने की उम्र में नशे की लत के चलते मोटरसाइकिल चोर (Bike Thief) बन गया. पुलिस ने इस आरोपित से चोरी की 10 मोटरसाइकिल बरामद कर बाल सुधार गृह भेज दिया है.

नाबालिग आरोपित 16 साल का है. ये वो उम्र होती है जब नाबालिग पढ लिख कर या खेलकूद कर अच्छा नागरिक बनता है. कोई नौकरी या कामकाज का सपने देखता है, लेकिन ये नाबालिग उसी उम्र में नशे की ऐसी लत में पड़ा कि वो चोर बन गया. चोर भी ऐसा कि एक साल में ही 10 मोटरसाइकिल चोरी कर डाली.

ख़ास बात ये है कि ये नाबालिग नशे की लक के साथ नई नई मोटरसाइकिल चलाने का भी शौक़ रखता था. जिसके चलते ये जिस बाइक को चुराता, उसकी तेल ख़त्म होने पर उसे अपने घर खड़ी कर देता और फिर दुसरी बाइक चुराने की प्लान बनाने लगता.



नाबालिग को बाल सुधार गृह भेजा
सीआईए-2 इंचार्ज इंस्पेक्टर श्रीभगवान यादव ने बताया कि उनके स्टाफ़ के एएसआई सुभाष मोर ग़स्त कर रहे थे. गस्त के दौरान सुभाष मोर की टीम ने एक नाबालिग को चोरी की बाइक सहित अभिरक्षा में लिया. जिसके बाद नाबालिग ने पुछताछ में चोरी की 10 वारदातों का खुलासा किया. उन्होंने बताया कि पुछताछ कर चोरी की सभी बाइक बरामद कर नाबालिग को बाल सुधार गृह भेज दिया है.

पुलिस ने कही ये बात

इस मामले में पुलिस का कहना है कि कुछ करने व बनने की उम्र में नशे की लत और नशे की लत के चलते आज चोरी जैसे अपराध की दलदल में बहुत से युवा धंसते जा रहे हैं. जो ना केवल पुलिस के लिए परेशानी बढ़ाते हैं बल्कि समाज के लिए बड़ा सवाल और कलंक पैदा कर रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज