• Home
  • »
  • News
  • »
  • haryana
  • »
  • हरियाणा: किसान आंदोलन में कूदे युवा, सरकार को झुकाने व टिकरी बॉर्डर को किसान धाम बनाने में जुटे

हरियाणा: किसान आंदोलन में कूदे युवा, सरकार को झुकाने व टिकरी बॉर्डर को किसान धाम बनाने में जुटे

Kisan Aandolan: सांसद चौ. धर्मबीर के गांव तालु के युवा डाक कावड़ लेकर हुए रवाना. इस बार हरिद्वार से गांव नहीं, गांव से टिकरी बॉर्डर जाएगी डाक कावड़.

Kisan Aandolan: सांसद चौ. धर्मबीर के गांव तालु के युवा डाक कावड़ लेकर हुए रवाना. इस बार हरिद्वार से गांव नहीं, गांव से टिकरी बॉर्डर जाएगी डाक कावड़.

Kisan Aandolan: सांसद चौ. धर्मबीर के गांव तालु के युवा डाक कावड़ लेकर हुए रवाना. इस बार हरिद्वार से गांव नहीं, गांव से टिकरी बॉर्डर जाएगी डाक कावड़.

  • Share this:

भिवानी. कृषि क़ानूनों को लेकर जारी आंदोलन में अब युवा किसान भी जोश व जुनून के साथ कूद पड़े हैं. भिवानी में सांसद चौ. धर्मबीर सिंह के गांव तालु के युवा डाक कावंड़ (Kanwar Yatra) लेकर पैदल टिकरी बॉर्डर के लिए रवाना हुये. इन युवा किसानों ने सरकार से कृषि क़ानून रद्द करने की अपील की और साथ ही मांग ना मानने पर कुछ भी करने की बड़ी चेतावनी भी दी.

कृषि क़ानूनों को लेकर सरकार व किसान अपनी अपनी बात पर अड़े हैं. किसान आंदोलन को लगातार तेज करने में जुटे हैं. अब युवा किसान भी आंदोलन में अनूठे अंदाज में कूद पड़े हैं. युवाओं ने आंदोलन को कावड़ के जरीये तेज करने की ठानी है. महामारी के चलते हरिद्वार से कांवड़ लाने पर रोक के जलते अब युवा किसान कांवड़ की आस्था के साथ आंदोलन मज़बूत कर रहे हैं.

बात करें भाजपा सांसद चौधरी धर्मबीर सिंह के गाँव तालु की तो यहाँ से दर्जनों युवा किसान आज अपने गाँव की मिट्टी व पानी की डाक कांवड़ बनाकर रवाना हुये. इनमें दो युवा मिट्टी व पानी लेकर दौड़ते रहेंगे और जब वो थक जाएंगे तो तुरंत दूसरे दो युवा उस मिट्टी व पानी को लेकर दौड़ेंगे. इस प्रकार ये युवा बिना रूके अपने गाँव की मिट्टी व पानी को टिकरी बॉर्डर पर पहुंचाएंगे.

डाक कांवड़ लेकर रवाना होने वाले युवाओं ने बताया कि अब ये आंदोलन जन आंदोलन बन चुका है. अब युवा भी मैदान में कूद चूके हैं. अब सरकार को तीनों काले क़ानून रद्द कर देने चाहिए वरना युवा कुछ भी कर सकते हैं. इन युवा किसानों ने कहा कि सरकार कितनी जिद्द कर ले, किसान सरकार को झुकाव व जीतकर ही वापस घर लौटेंगे. वहीं कृषि क़ानूनों को लेकर ना सरकार झुकने को तैयार और ना किसान पिछे हटने को तैयार. उपर से लगातार सरकार व किसानों में टकराव जारी है. एक दूसरे पर बयानबाज़ी और निचा दिखाने का दौर जारी है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज