भिवानी: घर के बाहर बैठे बुजुर्ग पर बदमाशों ने चलाई ताबड़तोड़ गोलियां, मौत
Bhiwani News in Hindi

भिवानी: घर के बाहर बैठे बुजुर्ग पर बदमाशों ने चलाई ताबड़तोड़ गोलियां, मौत
भिवानी में बुजुर्ग की हत्या

मामले की जांच कर रहे पुलिस अधिकारी विरेंद्र सिंह ने बताया कि सुबह जब सूबे सिंह अपने घर के बाहर बैठे थे, तब सफेद गाड़ी में सवार होकर आए चार युवकों ने उतरते ही उन पर ताबड़तोड़ गोलियां चला दी.

  • Share this:
भिवानी. हरियाणा के भिवानी जिले के गांव बडेसरा में बुधवार सुबह चुनावी रंजिश के चलते सूबे सिंह नामक बुजुर्ग व्यक्ति की हत्या (Murder) कर दी गई. हत्यारे उन्हीं के गांव के बताए जा रहे हैं, जिनके साथ उनकी पुरानी रंजिश है. पंचायत चुनाव (Panchayat Election) से शुरू हुई रंजिश के तहत यह गांव बडेसरा में लगातार पांचवां मर्डर है. सबसे पहला मर्डर बबलू सरपंच के परिवार की तरफ से 2017 में किया गया था. इस मामले में बबलू सरपंच सहित उसके परिवार के 22 सदस्य जेल में बंद हैं.

मामले की जांच कर रहे पुलिस अधिकारी विरेंद्र सिंह ने बताया कि सुबह जब सूबे सिंह अपने घर के बाहर बैठे थे, तब सफेद गाड़ी में सवार होकर आए चार युवकों ने उतरते ही उन पर ताबड़तोड़ गोलियां चला दी, जिससे सूबे सिंह की मौके पर ही मौत हो गई. सुबे सिंह को 3 गोलियां लगी है। इस मामले में पुलिस ने तीन टीमों का गठन करके जांच में जुट गई है.

चुनावी रंजिश के चलते हत्या



गौरतलब है कि गांव बडेसरा में हुए 5वें मर्डर के इतिहास के बारे में जाने तो पिछले सरपंच के चुनाव में बबलू सरपंच के परिवार व सूबे सिंह के परिवार के बीच चुनावी रंजिश हो गई थी. गांव के सरपंच चुने गए बबलू के खिलाफ मृतक सूबे सिंह के परिवार द्वारा बार-बार आरटीआई लगाई जा रही थी. इस मामले में बबलू सरपंच ने सुबे सिंह के परिवार के 4 लोगों की पहले भी हत्या कर दी थी.
रंजिश में 5वीं हत्या

इसी कड़ी में सूबे सिंह की हत्या इस रंजिश की पांचवी हत्या है. गौरतलब है कि पुलिस ने सूबे सिंह के परिवार को पुलिस सुरक्षा व परिवार के सदस्यों को पांच से सात हथियारों के लाइसेंस भी दे रखे थे. इसके बाद भी यह हत्या हो गई जबकि प्रतिद्वंदी परिवार के 22 सदस्य जेल में हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading