VIDEO: दंगल गर्ल बबिता फोगाट अपने गांव हामुसर पहुंचीं, जानें भविष्य के लिए क्या कहा

दंगल गर्ल बबिता फोगाट माता- पिता के साथ अपने गांव हामुसर पहुंचीं और अपने भविष्य की योजना के बारे में कई बातें बताई.

  • Share this:
ओलंपिक में देश के लिए गोल्ड मेडल लाने का सपना संजोने वाली दंगल गर्ल बबिता फोगाट एक निजी समारोह में शिरकत करने के लिए जिले के रतनगढ़ तहसील के गांव हामुसर आई. अपने पैतृक गांव हामुसर में बबिता अपने पिता महावीर सिंह व मां जयाकौर के साथ आईं. बबिता ने बताया कि अभी उनका लक्ष्य ओलंपिक में देश के लिए गोल्ड मेडल लाना है और इस लक्ष्य के लिए वे किसी भी फंक्शन या अन्य कार्यक्रम में बहुत कम शिरकत करती है.

केवल जीत ही होता है लक्ष्य 

लक्ष्य के लिए नियमित कड़ा अभ्यास करते हुए अपने सपने को पूरा करने का प्रयास किया जा रहा है. कुश्ती के खेल के बारे में उन्होंने कहा कि उनके दादा व पिता रेसलर थे और उन्हें भी यह खेल काफी पसंद है. जब वे खेल के लिए अखाड़े में उतरती है, तो केवल जीत ही उनका लक्ष्य होता है, चाहे सामने कोई भी खिलाड़ी हो. अर्जुन पुरस्कार अवार्डी बबिता फोगाट ने ग्रामीण बेटियों के बारे में कहा कि चाहे किसी भी फील्ड में वे जाएं, घर से बाहर निकलकर समाज व प्रदेश का नाम गौरवान्वित करें. सफलता के लिए केवल एक ही मूलमंत्र है और वह है कठोर परिश्रम.



ये भी पढ़ें-
शादी के बंधन में बंधने वाली हैं बबीता फोगाट, यहां मिलकर हुआ दोनों को प्यार!

बबीता फोगाट ने हाईकोर्ट में दाखिल की याचिका, पूछा- क्यों नहीं बना रहे DSP
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज