लाइव टीवी

कंपनी के इंजीनियरों ने ही एटीएम से निकाले थे 8 लाख रुपये, एक गिरफ्तार
Bhiwani News in Hindi

Jagbir Ghangas | News18 Haryana
Updated: January 30, 2020, 5:35 PM IST
कंपनी के इंजीनियरों ने ही एटीएम से निकाले थे 8 लाख रुपये, एक गिरफ्तार
यूको बैंक एटीएम लूट केस में एक आरोपी गिरफ्तार

मुख्य आरोपी (Main Accused) कंपनी का इंजीनियर (Company Engineer) है जिसने कंपनी छोड़ दी है. उन्होंने बताया कि सोहन कंपनी में रहते पहले दो बार इस एटीएम को ठीक करने आ चुका है

  • Share this:
भिवानी. पुलिस ने एटीएम से महज दो मिनट में आठ लाख रुपये से अधिक की चोरी की गुत्थी को सुलझाने में कामयाबी हासिल की है. ये चोरी दिनदहाड़े बैंक बंद होने के समय 5 जनवरी को की गई थी. पुलिस ने एक आरोपी को एक लाख 40 हजार रुपये सहित गिरफ्तार कर लिया है. खास बात ये है कि ये आरोपी इंजिनियर है और अपने साथी के बहकावे में आकर इस वारदात को अंजाम दिया. पुलिस मुख्य आरोपी की तलाश व अन्य पैसे की बरामदगी के प्रयास कर रही हैय

बता दें कि भिवानी में 5 जनवरी को यूको बैंक के एटीएम से महज दो मिनट ने 8 लाख 28 हजार रुपये की चोरी की ऐसी वारदात हुई जिस पर किसी को यकीन नहीं हो रहा था. ये चोरी महज दो मिनट में बैंक बंद होते समय की गई. हैरानी की बात ये है कि बैंक को भी इस घटना का अगले दिन 6 जनवरी को करीब 20-21 घंटे बाद पता चला. बता दें कि 6 जनवरी को यूको बैंक के कर्मचारी खुद हैरान रह गए जब उन्होंने इस घटना का पता चला. क्योंकि बैंक अधिकारी व कर्मचारी 6 जनवरी को अपने बैंक का स्थापना दिवस मना रहे थे हर उपभोक्ता को मिठाई खिला कर खुशी मना रहे थे.

आनन फानन में बैंक मैनेजर ने पुलिस को एटीएम से 8 लाख 28 हजार रुपये चोरी होने की सूचना दी. पुलिस ने पड़ताल की तो पता चला कि ना तो एटीएम को तोड़ गया है ना ही वारदात रात की है. बैंक बंद होते समय इस वारदात को दिनदहाङे 4 बजकर 57-58 मिनट पर अंजाम दिया गया. पुलिस हैरान थी कि इस एटीएम से कोई छोङछाड़ भी नहीं हुई है तो पैसे कौन और कैसे निकला ले गया. इस पहेली को सुलझाने के लिए पुलिस ने बैंक अधिकारियों, कर्मचारियों के साथ उच्च अधिकारियों तक से बात की.

जांच के दौरान पुलिस ने एटीएम में पैसे डालने वाली कंपनी के कर्मचारियों को भी जांच में शामिल किया. क्योंकि पुलिस को शुरुआती दौर में ही लग रहा था कि ये काम किसी चोर की बजाय बैंक या कंपनी के किसी कर्मचारी की मिलीभगत से हुआ है. जांच होने पर पुलिस का सक सही निकला.

आरोपी से एक लाख 40 हजार रुपये बरामद

पुलिस ने अब चोरी करने वाले एक आरोपी धर्मेन्द्र को दिल्ली से गिरफ्तार किया है. पुलिस ने आरोपी धर्मेन्द्र से एक लाख 40 हजार रुपये भी बरामद किए हैं. आरोपी धर्मेन्द्र बीएससी पास है और इंजिनियर है. धर्मेन्द्र ने बताया कि उसने जीवन में पहली बार ये चोरी की है. ये भी अपने साथी सोहन के कहने पर. उसने बताया कि अब मुझे बहुत पछतावा हो रहा है.

आरोपियों तक ऐसे पहुंची पुलिसवहीं सिटी थाना प्रभारी इंस्पेक्टर हरीओम ने बताया कि हमें शुरुआती दौर में ही संदेह था कि ये चोरी किसी टैकनिकल आदमी ने की है जो बैंक या कंपनी का हो सकता है. उन्होंने बताया कि काफी पूछताछ के बाद जांच में सामने आने पर धर्मेन्द्र को गिरफ्तार किया. उन्होंने बताया कि धर्मेन्द्र के हिस्से दो लाख रुपये आए थे, जिसमें से 60 हजार रुपये उसने खर्च कर दिए और एक लाख 40 हजार रुपये बरामद कर लिए हैं. उन्होने बताया कि मामले में मुख्य आरोपी की तलाश जारी है.

मुख्य आरोपी ने छोड़ दी है नौकरी

थाना प्रभारी ने बताया कि मुख्य आरोपी कंपनी का इंजीनियर है जिसने कंपनी छोड़ दी है. उन्होंने बताया कि सोहन कंपनी में रहते पहले दो बार इस एटीएम को ठीक करने आ चुका है. बैंक मैनेजर की लापरवाही से सोहन को अब तक एटीएम का पासवर्ड याद था और उसी से एटीएम खोल कर पैसे चोरी किए गए.

ये भी पढ़ें:- पंचकूला: आश्रम में सेवा करने आई दो बच्चियों से दुष्कर्म, आरोपी बाबा फरार

 

ये भी पढ़ें:- बेटियों का सम्मान: शादी से पहले घोड़ी पर निकाला दो लड़कियों का बनवाड़ा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भिवानी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 30, 2020, 5:35 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर