अपना शहर चुनें

States

घायल कैदी पर पुलिस को हुआ शक तो कटवाया पैर में बंधा प्लास्टर, निकली अफीम

प्रतिकात्मक तस्वीर
प्रतिकात्मक तस्वीर

मनोज के पैर में प्लास्टर और हाथों पर पट्टी बंधी हुई थी. शक के आधार पर जेल प्रशासन ने मनोज की पट्टी खोली तो उनमें कुछ सिल्वर पेपर मिले. इसके बाद उसके पैर में बंधे प्लास्टर को खोला गया तो उसमें 25 ग्राम अफीम मिली.

  • Share this:
भिवानी जिला कारागार में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. यहां पहुंचे एक कैदी की तलाशी के दौरान जब उसके पैर में बंधे प्लास्टर को काटा गया तो उसमें 25 ग्राम अफीम और कुछ सिल्वर पेपर बरामद हुए. ऐसे में बड़ा सवाल उठता है कि आखिर प्लास्टर में अफीम किसी डॉक्टर ने तो नहीं डाली.

बता दें कि गांव कालुवास निवास मनोज के खिलाफ सिविल लाइन थाना में 14 मई 2013 को हत्या का प्रयास, मारपीट और आर्म्स एक्ट के तहत केस दर्ज हुआ था. इस मामले में मनोज अदालत से जमानत पर चल रहा था. इस मामले की अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश सुशील कुमार की अदालत ने मनोज को 7 साल की कैद और 56 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई. पेशी पर आए मनोज को सजा सुनाने के बाद जेल भेजा गया.

ये भी पढ़ें:- फतेहाबाद में नाबालिग को घर में अकेली देख घुसे 3 युवकों ने किया गैंगरेप



जेल में जाते ही जेल प्रशासन को शक हुआ. मनोज के पैर में प्लास्टर और हाथों पर पट्टी बंधी हुई थी. शक के आधार पर जेल प्रशासन ने मनोज की पट्टी खोली तो उनमें कुछ सिल्वर पेपर मिले. इसके बाद उसके पैर में बंधे प्लास्टर को खोला गया तो उसमें 25 ग्राम अफीम मिली. जेल के उपाधिक्षक अमित शर्मा की शिकायत पर सदर थाना पुलिस ने पर्चा दर्ज कर जांच शुरु कर दी है. प्लास्टर में अफीम मिलने का भिवानी में पहला मामला है. ऐसे में सवाल उठते हैं कि इसमें कोई डॉक्टर तो शामिल नहीं.
ये भी पढ़ें:- गुरुग्राम में दो युवकों की गोली मारकर हत्या, मौके से दो देसी कट्टे बरामद

चौंका देने वाले इस पूरे मामले पर एसपी गंगाराम पूनिया ने बताया कि आरोपी को प्रोडक्शन वारंट पर लेकर पुछताछ की जाएगी. उन्होंने कहा कि आरोपी से पुछताछ के दौरान ही खुलासा होगा कि वो ये अफीम कहां से और किससे लेकर आया और उसके प्लास्टर में ये अफीम कैसे डाली. प्लास्टर में अफीम डालने में किसी डॉक्टर की मिलीभगत के सवाल पर एसपी ने साफ किया कि इस मामले में आरोपी से पुछताछ में ही खुलासा होगा. यदि किसी अन्य व्यक्ति की कोई भी संलिप्तता पाई गई तो उसके खिलाफ भी कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

ये भी पढ़ें:- किन्नरों में इलाके के वर्चस्व की लड़ाई को लेकर खूनी संघर्ष, एक की मौत
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज