लाइव टीवी

पूर्व सरपंच हत्याकांड: पुलिस ने 3 हत्यारों को किया गिरफ्तार, पिता कहने पर की थी हत्या

Jagbir Ghangas | News18 Haryana
Updated: October 17, 2019, 10:05 AM IST
पूर्व सरपंच हत्याकांड: पुलिस ने 3 हत्यारों को किया गिरफ्तार, पिता कहने पर की थी हत्या
7 गोलियां मार कर की थी पूर्व सरपंच पवन की हत्या

बडेसरा गांव में सरपंच चुनावों से दो गुटों में ठन गई थी. ये रंजीश देखते ही देखते खुनी खेल में बदल गई और एक गुट ने दो साल में दूसरे गुट के तीन लोगों को मौत के घाट उतार चुका है.

  • Share this:
भिवानी. पुलिस ने बडेसरा गांव के पूर्व सरपंच पवन हत्याकांड (Murder Case) का 48 घंटे से पहले पटाक्षेप कर हत्यारों को गिरफ्तार (Arrest) किया है. हैरानी की बात ये है कि सरपंच (Sarpanch) चुनावों से चली आ रही रंजीश में गवाह पवन को उसी के गांव के अंकित ने अपने पिता आनंद के कहने पर अपने साथी के साथ मिलकर मौत के घाट उतारा था. इन लोगों ने दो साल पहले भी इसी परिवार के दो लोगों की गोली मारकर हत्या की थी.

बता दें कि बडेसरा गांव में सरपंच चुनावों से दो गुटों में ठन गई थी. ये रंजीश देखते ही देखते खुनी खेल में बदल गई और एक गुट ने दो साल में दूसरे गुट के तीन लोगों को मौत के घाट उतार चुका है. साल 2017 में इन दोनों गुटों में खुनी संघर्ष हुआ था जिसमें बलजीत व भलेराम की गोली व तेजधार हथियार से हत्या कर दी थी.

पूर्व सरपंच की 22 अक्टूबर को होनी थी गवाही

इस मामले में हत्या के आरोपी गुट के 23 लोग फिलहाल जेल में बंद थे और केस कोर्ट में चल रहा है. इसी केस में पीङित पक्ष के पूर्व सरपंच पवन की 22 अक्टूबर को गवाही होनी थी. पर आरोपी गुट ने गवाही देने से पहले ही 14 अक्टूबर को देर सांय पवन को एक के बाद एक अंधाधुंध फायर करते हुए 6-7 गोलियां दाग कर मौत के घाट उतार दिया.

गवाही देने के चलते की हत्या

मामले की गंभीरता को देखते हुए एसपी गंगाराम पूनिया में एसआईटी का गठन किया. एसआईटी ने आरोपी पक्ष के बबलू और आनंद को जेल से प्रोटेक्शन वारंट पर लेकर पुछताछ शुरू की. जिसके आधार पर आनंद के बेटे अंकित और उसके साथी सचिन को गिरफ्तार किया. डीएसपी हेडक्वाटर विरेन्द्र सिंह ने बताया कि पूर्व सरपंच पवन को गवाही देने के चलते मौते के घाट उतार गया है.

महिला सरपंच थी मास्टर माइंड
Loading...

उन्होंने बताया कि आनंद की निशानदेही पर अंकित और सचिन को बास गांव के पास से गिरफ्तार किया है, जिनके कब्जे से दो अवैध पिस्तोल भी बरामद हुए हैं. उन्होंने बताया कि हत्याकांड का मास्टर माइंड महिला सरपंच थी जोकि फर्जी कागजात के आधार पर सरपंच बनने के आधार पर बर्खास्त हो चुकी है. उसका पति बबलू है और उसकी बलजीत और भलेराम की हत्या के आरोप में जेल हो चुकी है.

दो आरोपियों को किया गिरफ्तार

फिलहाल पुलिस ने अंकित व सचिन को गिरफ्तार कर लिया है. अंकित ने पुलिस पुछताछ में कबूल किया है उसने दो दिन पहले ही अवैध हथियार खरीदा था और अपने पिता आनंद के कहने पर पूर्व सरपंच पवन की हत्या की थी. फिलहाल पुलिस बब्लू को प्रोटेक्शन वारंट पर लेकर पुछताछ कर रही है और पता लगा रही है कि पवन हत्याकांड में और कौन-कौन लोग थे और वो कहां छिपे हैं.

ये भी पढ़ें- नूह के तीन गांवों में राजनीतिक दलों के कार्यकर्ता भिड़े , 6 मुकदमे दर्ज

बीजेपी प्रत्याशी मोहनलाल के प्रचार के लिए राई पहुंचे भोजपुरी स्टार निरहुआ

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भिवानी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 17, 2019, 9:58 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...