जेल में बंद भाईयों को राखी बांधते समय भावुक हुई बहनें, हमेशा अच्छे काम करने का लिया वचन

पूरे देश में आज कारागारों में भी 73वां गणतंत्र दिवस व रक्षा बंधन हर्षोउल्लास के साथ मनाया गया. पर रक्षाबंधन को लेकर यहां जो नजारा था वो नजारा देश में ओर कहीं नहीं था.

Jagbir Ghangas | News18 Haryana
Updated: August 15, 2019, 3:39 PM IST
जेल में बंद भाईयों को राखी बांधते समय भावुक हुई बहनें, हमेशा अच्छे काम करने का लिया वचन
जेल में बंद भाईयों को राखी बांधते समय भावुक हुए बहनें
Jagbir Ghangas | News18 Haryana
Updated: August 15, 2019, 3:39 PM IST
पूरे देश में भाई-बहन से सबसे पवित्र रिश्ते को लेकर रक्षा बंधन का पर्व मनाया जा रहा है. आज सभी बहनें अपने भाईयों को राखी बांध कर अपनी सुरक्षा का वचन भरवाती हैं. पर कुछ बहनें ऐसी भी थी जो आज अपने भाईयों को कुछ ओर ही वचन भरवा रही थी.

पूरे देश में आज कारागारों में भी 73वां गणतंत्र दिवस व रक्षा बंधन हर्षोउल्लास के साथ मनाया गया. पर रक्षाबंधन को लेकर यहां जो नजारा था वो नजारा देश में ओर कहीं नहीं था. यहां अपने बंदी भाईयों को राखी बांधने आई बहने भावुक हो उठे. अपनी बहनों को भावुक देख बंदी भाई खुद भी भावुक हो गए. बहुत सी बहनों व भाईयों की आंखों में आसुं आ गए.

राखी बांध मुंह किया मीठा

इसी भावुकता के बीच बहनों ने अपने बंदी भाईयों को राखी भी बांधी और मिठाई खिलाकर उनका मुंह मीठा करवाया. इस दौरान जो खास बात थी वो ये थी कि ये बहनें अपने भाईयों से अपनी रक्षा या सुरक्षा का वचन लेने से पहले जीवन में आगे कभी कोई गलत काम ना करने का वचन ले रही थी. ये बहने अपने भाईयों को कह रही थी कि भविष्य में ऐसा कोई काम ना करना कि दौबारा जेल का मुह देखना पङ़े.

बहनों ने भाईयों से लिया ये वचन

अपनी बहनों के मुह से ऐसी बातें सुनकर बंदी भाई भी अपनी बहनों को कभी गलत काम ना करने का वचन दे रहे थे. इस अवसर पर जेल अधिक्षक सत्यवान ने बताया कि कारागार में 73वां स्वतंत्रता दिवसर व रक्षा बंधन पर्व बङे हर्षोउल्लास से मनाया गया है और रक्षा बंधन पर राखी बांधने आने वाली बहनों के लिए जेल महानिरीक्षक के निर्देश पर मिठाई व राखी तथा अन्य सभी सुविधाएं उपलब्ध करवाई गई हैं. उन्होने बताया कि राखी बांधने आने वाली बहनों को किसी प्रकार की कोई असुविधा ना हो इसका पूरा ध्यान रखा गया है. उन्होने सभी बंदियों को स्वतंत्रता दिवस व रक्षा बंधन की बधाई दी.

जिला कारागार में 800 से ज्यादा बंदी हैं जिनकी बहनों या बेटियों ने यहां आकर रक्षा बंधन पर्व मनाया. इस पर्व पर कारागार प्रशासन ने सभी सुविधाएं उपलब्ध करवाई. इस भावुक माहौल में मनाए गए इस पर्व का देश में मनाए गए रक्षा बंधन पर्व से कुछ अलग ही महत्व था.
Loading...

यह भी पढ़ें- मॉब लिन्चिंग केस: पहलू खान के बेटे बोले- ये दिन देखने से पहले हम उनके साथ मर जाते तो...
First published: August 15, 2019, 2:22 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...