• Home
  • »
  • News
  • »
  • haryana
  • »
  • Haryana School Reopen: कक्षा चौथी और 5वीं के स्कूल कल से खुलेंगे, जानें जरूरी गाइडलाइंस

Haryana School Reopen: कक्षा चौथी और 5वीं के स्कूल कल से खुलेंगे, जानें जरूरी गाइडलाइंस

हरियाणा में स्कूलों को फिर से खोलने को लेकर जरूरी गाइडलाइंस जारी कर दी गई है.

हरियाणा में स्कूलों को फिर से खोलने को लेकर जरूरी गाइडलाइंस जारी कर दी गई है.

Bhiwani News: हरियाणा में बुधवार से चौथी और पांचवीं कक्षा के बच्चों के लिए स्कूल (Haryana School Reopen Date) खुलने वाले हैं. बच्चों को अभिभावक का अनुमति पत्र लाना और मास्क लगाकर आना जरूरी होगा.

  • Share this:
भिवानी. हरियाणा (Haryana) में बुधवार से चौथी और पांचवीं कक्षा के सरकारी और निजी स्कूलों के करीब नो लाख बच्चे डेढ साल बाद स्कूल जाएंगे. इसको लेकर स्कूलों (School Reopen) में हर तरह के प्रबंध और सावधानियां बरती जा रही है. वहीं छोटे बच्चों के स्कूल खुलने को लेकर अभिभावक भी खुश हैं और अपने बच्चों के स्कूल जाने का इंतजार कर रहे हैं. बता दें कि मार्च 2020 में कोरोना (COVID-19) महामारी के चलते स्कूलों को बंद किया गया था. महामारी कम होने पर एक दो बार बीच-बीच में हायर क्लास के बच्चों के लिए स्कूल खुले, लेकिन कोरोना  की दूसरी लहर के बाद वो भी बंद हो गए. इसके बाद फिर महामारी कम होने पर 9वीं से 12वीं और फिर 6ठीं से 8वीं के स्कूल खुले. अब एक सितंबर से चौथी और पांचवी कक्षा के स्कूल भी खुल रहे हैं.
चौथा और पांचवीं के बच्चों के स्कूल आने से पहले स्कूलों में हर तरह से सावधानी व बचाव के प्रबंध किए जा रहे हैं. बात करें हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड (Haryana Board of School Education) परिसर में चल रहे एसआरएस लैब स्कूल की तो प्रिंसिपल मीनाक्षी ने बताया कि चौथी व पांचवीं कक्षा के बच्चों के कमरों की साफ सफाई कर सेनिटाइज किया गया है. हर बच्चे का रोल नंबर अंकित किया गया है. उन्होंने बताया कि छोटे बच्चों के स्कूल आने को लेकर सभी शिक्षक उत्साहित हैं. उन्होने बताया कि जो भी बच्चा स्कूल (Haryana School Reopen Guidelines) आएगा उसे अभिभावक का अनुमति पत्र लाना, मास्क (Mask) लगा कर आना, अपनी पानी की बोतल लाना जरूरी है. स्कूल में खाने का टीफन लाना मना है और  कोई बच्चा स्टेशनरी शेयर नहीं करेगा.
पेरेंट्स ने कही ये बात
वहीं स्कूल खुलने पर अभिभावक भी खुश हैं. अभिभावकों का कहना है कि डेढ साल से बच्चों के घर पर रहते रहते आदत बिगड़ चुकी है. पढ़ाई की आदत छूट चुकी है. अभिभावकों का कहना है कि घर पर रह कर बच्चे शरारत करते हैं और चोट खाते हैं. ऑनलाइन (Online Class) पढ़ाई सिर्फ फोरमलटी रह गई है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज