हरियाणा: अस्पताल में कोरोना संक्रमित महिला के शवों की अदला बदली, दूसरी का कर दिया संस्‍कार

भिवानी के सिविल अस्पताल में कोरोना संक्रमित महिला के शवों की अदला बदली (सांकेतिक तस्वीर)

भिवानी के सिविल अस्पताल में कोरोना संक्रमित महिला के शवों की अदला बदली (सांकेतिक तस्वीर)

Bhiwani News: बौंद गांव निवासी पुष्पा नामक महिला की भाी कोरोना के चलते मौत हुई और पुष्पा की जगह ग्रामीण रामकली का शव ले गए और अंतिम संस्कार कर दिया.

  • Share this:

भिवानी. हरियाणा के भिवानी जिले के नागरिक अस्पताल (Civil Hospital) में कोरोना संक्रमित महिला के शव बदली होने का सनसनीख़ेज़ मामला सामने आया है. जिसके बाद मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) निवासी जीजा व साले का शव लेने के लिए रो रो कर बुरा हाल है. इस पूरे मामले का खुलासा मीडिया के दबाव के बाद हुआ.  बताया जाता है कि मध्य प्रदेश निवासी 40 वर्षिय रामकली भिवानी के ढिगावा गांव में अपने पति व भाई के साथ मज़दूरी का काम करती थी. 6 मई को रामकली को कोरोना के चलते चौधरी बंसीलाल नागरिक अस्पताल में भर्ती करवाया गया जहां इलाज के दौरान 9 मई को उसकी मौत हो गई. मौत के बाद रामकली के पति व भाई ने रामकली का शव अंतिम संस्कार के लिए मांगा तो हाहाकार मच गया.

मृतका रामकली के भाई शैतान बंसल ने बताया कि उन्हें ना तो शव मिला ना दिखाया गया. यहां तक कि नागरिक अस्पताल में रामकली का शव था ही नहीं. वो यहां से शमशान घाट गए तो वहां भी रामकली के अंतिम संस्कार का कोई रिकॉर्ड नहीं था. नगर परिषद कर्मचारी पुरूषोत्तम दानव ने खुद शमशान घाट में रामकली का कोई रिकॉर्ड ना होने की बात मानी.

रामकली का ना शव और ना अंतिम संस्कार का कोई रिकॉर्ड ना मिलने पर मृतका के भाई व पति का शमशान घाट के बाहर रो रो कर बुरा हाल हो गया. इस बारे में मीडिया ने पूरा मामला सीएमओ डॉ सपना गहलावत के संज्ञान में डाला. सीएमओ ने जांच करवाई तो सच हैरान कर देने वाला मिला. डॉ. सपना ने बताया कि बौंद गांव निवासी पुष्पा नामक महिला की भाी कोरोना के चलते मौत हुई और पुष्पा की जगह ग्रामीण रामकली का शव ले गए और अंतिम संस्कार कर दिया.

अब सीएमओ ने मृतक पुष्पा के परिजनों को बुलाया है ताकी मामले की पूरी सचाई सामने आ सके. पर जो भी हो, मृतक रामकली के पति व भाई को मीडिया के माध्यम से सच पता चल गया, लेकिन अब रामकली के अंतिम संस्कार किये बिना ही इन्हें सबर का कड़वा घूंट पीना होगा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज