Home /News /haryana /

हरियाणा बजट 2019: जानिए, खट्टर सरकार के 5वें बजट की 10 बड़ी बातें

हरियाणा बजट 2019: जानिए, खट्टर सरकार के 5वें बजट की 10 बड़ी बातें

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर

इस अंतिम बजट में कोई ना कर नहीं लगाया है और विभिन्‍न वर्गों के लिए कई तोहफों का ऐलान किया.

    हरियाणा के वित्‍तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने सोमवार को खट्टर सरकार का अंतिम बजट पेश किया. खट्टर सरकार के इस अंतिम बजट में कोई ना कर नहीं लगाया है और विभिन्‍न वर्गों के लिए कई तोहफों का ऐलान किया. बजट में हर तबके को साधने की कोशिश की गई और कोई नए टैक्स का बोझ भी नहीं डाला गया. कैप्टन ने कुल 1 लाख 32 हजार 165 करोड़ का बजट पेश किया. बजट पूरी तरह से चुनावी रंग में रंगा नजर आया. खट्टर सरकार इस बजट 10 बड़ी बातें इस प्रकार से हैं:-

    1. नंबरदारों का मानदेय दोगुना करने और उनको मोबाइल देने की घोषणा. उनको अब 1500 रुपये की जगह 3000 रुपये मासिक का मानदेय मिलेगा.

    2. 2019-20 में तकनीकी शिक्षा विभाग के लिए 72 करोड़ रुपये का बजट रखा गया है जोकि संशोधित अनुमान 2018-19 के 465.70 करोड़ रुपए से 10.1 प्रतिशत ज्यादा है.

    3. 2019-20 में खेल एवं युवा मामले विभाग के लिए 17 करोड़ रुपए का बजट रखा गया है जोकि 2018-19 से 13.9 प्रतिशत अधिक है.

    4. 2019-20 में मौलिक और माध्यमिक शिक्षा के लिए कुल 12,307.46 करोड़ रुपए का बजट रखा गया है, जो संशोधित बजट 2018-19 के 11,256 करोड़ रुपए से 3 प्रतिशत ज्यादा है.

    5. स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण क्षेत्र के लिए वर्ष 2019-20 में 5,040.65 करोड़ रुपए बजट रखा गया है, जोकि वर्ष 2018-19 के 4,486.91 करोड़ रुपए से 3 प्रतिशत ज्यादा है.

    6. इस बजट में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण के लिए 3,126.54 करोड़ रुपए, चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान के लिए 1,358.75 करोड़ रुपए, आयुष के लिए 2 करोड़ रुपए, कर्मचारी राज्य बीमा स्वास्थ्य देखभाल के लिए 172.49 करोड़ रुपए और खाद्य एवं औषध प्रशासन के लिए 45.67 करोड़ रुपए बजट रखा गया है.

    7. सरकार का वर्ष 2020-21 तक 750 करोड़ रुपए की कुल लागत से शाहबाद चीनी मिल में 60 केएलपीडी का एथनॉल प्लांट लगाने और सहकारी चीनी मिल पानीपत और करनाल का आधुनिकीकरण करने का प्रस्ताव किया है.

    8. कैथल, जींद और सोनीपत में आधुनिक रिकॉर्ड रूम स्थापित किए गए हैं. अब सभी जिलों और राज्य मुख्यालय तक इस पहल का विस्तार होगा. 2019-20 में 42 करोड़ रुपए बजट प्रस्तावित किया गया है जोकि 2018-19 के 1053.95 करोड़ रुपए की तुलना में 43.5 प्रतिशत ज्यादा है.

    9. वर्ष 2018-19 में प्रथम चरण में 15,000 पंप और वर्ष 2019-20 में दूसरे चरण में 35000 पंप लगाने की योजना है. इस वर्ष गन्ने के लिए 340 रुपए प्रति क्विंटल के मूल्य की घोषणा की है.

    10. पहली बार, किसानों को गन्ने की बकाया राशि के भुगतान के लिए 16 रुपए प्रति क्विंटल की सबसिडी दी गई. कृषि एवं सम्बद्ध गतिविधियों के लिए बजट अनुमान 2019-20 में 33 करोड़ रुपए रखा गया है जोकि 2018-19 के 3670.29 करोड़ रुपए बजट की तुलना में 4.5 प्रतिशत ज्यादा है.

    Tags: Budget, Budget 2019, Manohar Lal Khattar

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर