होम /न्यूज /हरियाणा /

हरियाणा: बहन की शादी का कर्ज उतारने के लिए व्यापारी से मांगी 10 लाख की फिरौती, 2 युवक गिरफ्तार

हरियाणा: बहन की शादी का कर्ज उतारने के लिए व्यापारी से मांगी 10 लाख की फिरौती, 2 युवक गिरफ्तार

दोनों युवक इंटरनेट मीडिया पर नीरज बवाना गैंग से जुड़े वीडियो देखते थे.

दोनों युवक इंटरनेट मीडिया पर नीरज बवाना गैंग से जुड़े वीडियो देखते थे.

Crime in Hisar: आरोपी आनंद 9वीं कक्षा फेल है और पिछले छह से सात महीने से कपड़ा व्यापारी मोंटी के पास सेल्समैन के रूप में सात हजार रुपए प्रति माह के मेहनताने पर नौकरी कर रहा है. इससे पहले यह मेन बाजार बरवाला में गारमेंट्स पर काम करता था. वहीं नसीब आठवीं कक्षा तक पढ़ा लिखा है.

अधिक पढ़ें ...

हिसार. कपड़ा व्यापारियों से नीरज बवाना गैंग के नाम से फिरौती मांगने के मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है. इनमें बरवाला के वार्ड नंबर चार निवासी आनंद व नसीब शामिल है. दोनों आरोपी अक्सर इंटरनेट मीडिया पर नीरज बवाना गैंग से संबंधित वीडियो देखते थे, जो फिरौती से जुड़ी होती थी. इसके लिए उन्होंने पहले अपने फोन में फर्जी कॉल का एक (कॉल ग्लोबल) नाम से एप डाउनलोड किया. इससे कॉल करने पर कॉल रिसीवर के पास कोई 11 डिजिट का नंबर जाता है.

19 जून को आनंद और नसीब ने मिलकर मोबाइल एप के माध्यम से सुरेंद्र गोयल के पास फोन कर कहा कि मैं तिहाड़ जेल से नीरज बवाना बोल रहा हूं, जिस पर सुरेंद्र गोयल ने कहा कि कौन नीरज बवाना. आरोपियों ने नीरज बवाना गैंग के बारे में विस्तार से बताते हुए सुरेंद्र गोयल से 10 लाख की फिरौती मांगी और न देने पर जान से मारने की धमकी देकर अपने मोबाइल से फर्जी कॉल ऐप डिलीट कर दिया. बरवाला थाना पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

इस मामले में उप पुलिस अधीक्षक कप्तान सिंह ने अपने कार्यालय में प्रेस वार्ता की. डीएसपी कप्तान सिंह ने बताया कि आरोपी आनंद बरवाला में स्मार्ट लुक गारमेंट्स की दुकान पर काम करता है. साल 2020 में आनंद की बहन की शादी हुई थी. शादी में ज्यादा खर्च होने के कारण आनंद के परिवार पर कर्जा हो गया और कर्जे के कारण परिवार में परेशानी रहने लगी. आनंद ने कर्जे के बारे में अपने दोस्त नसीब को बताया. आरोपी नसीब को भी पैसे की जरूरत थी.

आनंद ने नसीब को बताया कि बरवाला में कपड़ा व्यापारी सुरेंद्र गोयल के पास काफी पैसा है. इसके बाद उन दोनों ने मिलकर योजना बनाई कि सुरेंद्र गोयल से 10 लाख रुपए की फिरौती मांगते है और फिरौती में मिले पैसे से हम दोनों का कर्ज उतर जाएगा. अब आरोपियों को पुलिस ने अदालत में पेश किया. जहां पर पुलिस ने आरोपियों का पांच दिन का पुलिस रिमांड की. उसी में पुलिस असल जानकारी पता लगाएगी.

यह दोनों की हिस्ट्री
आरोपी आनंद 9वीं कक्षा फेल है और पिछले छह से सात महीने से कपड़ा व्यापारी मोंटी के पास सेल्समैन के रूप में सात हजार रुपए प्रति माह के मेहनताने पर नौकरी कर रहा है. इससे पहले यह मेन बाजार बरवाला में गारमेंट्स पर काम करता था. वहीं नसीब आठवीं कक्षा तक पढ़ा लिखा है. नसीब 15 हजार रूपए प्रति माह की सैलरी पर एलुमिनियम एंड स्टील वर्क्स की दुकान पर सुभाष सैनी के पास काम करता है. इससे पहले कोई वारदात नहीं की और न ही कोई केस दर्ज है.

पहले से जानते थे
पुलिस पूछताछ में आनंद ने बताया कि वह पहले कपड़ा व्यापारी की दुकान पर काम कर चुका है और अभी उसकी दुकान के आसपास में ही काम करता था. बाजार में ही वह रहता है. नसीब ने बताया कि वह भी उनके पास की दुकान में करता है. कई दिन से उनकी नजर थी. इनकी व्यापारियों पर पूरी निगरानी थी और पहले से जानते थे.

यह था मामला
उल्लेखनीय है कि थाना बरवाला में मेन रोड स्थित गणपति फैशन दुकान संचालक वार्ड नंबर चार बरवाला निवासी प्रेमचंद गोयल ने 19 जून और 24 जुलाई को फोन पर किसी अनजान व्यक्ति द्वारा 10 लाख रुपए की फिरौती मांगने और न देने पर जान से मारने की धमकी देने के बारे में शिकायत दी थी. दूसरा मामला है कि सुपर रेडीमेड जरनल स्टोर के संचालक वार्ड नंबर 16 निवासी सुपिंदर ने भी नीरज बवाना गैंग के नाम से 24 जुलाई को दस लाख रुपए की फिरौती मांगने के बारे में थाना बरवाला में शिकायत दी थी. 24 जुलाई को फिर से आनंद ने फर्जी कॉल एप के जरिए फोन पर सुरेंद्र गोयल से 10 लाख रुपए की फिरौती मांगी और कहा कि अगर आज तुमने 10 लाख रुपए नही दिए तो तुझे जान से मार देंगे. उसी दिन आनंद ने सुपर गिफ्ट गैलरी के पास फोन कर 10 लाख रुपए की फिरौती मांगी थी.

Tags: Crime News, Haryana news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर