Home /News /haryana /

Haryana: सीएम खट्टर का बड़ा सपना, बोले-हरियाणा के सभी जिलों के पास हो मेडिकल कॉलेज, जानें हकीकत

Haryana: सीएम खट्टर का बड़ा सपना, बोले-हरियाणा के सभी जिलों के पास हो मेडिकल कॉलेज, जानें हकीकत

हरियाणा के 19 जिलों अब तक मेडिकल कॉलेज की सौगात मिल चुकी है.

हरियाणा के 19 जिलों अब तक मेडिकल कॉलेज की सौगात मिल चुकी है.

Haryana News: हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) का इस समय हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर (Health Infrastructure) पर खास फोकस है. वहीं, उन्‍होंने कहा, हमारा लक्ष्‍य है कि राज्‍य के हर जिले में हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर को बढ़ाने के लिए एक मेडिकल कॉलेज बने. इस वक्‍त अधिकांश जिलों में मेडिकल कॉलेज बन गए या बन रहे हैं. जबकि जो तीन जिले अभी बाकी हैं, उनके लिए अगले कुछ साल में प्‍लान तैयार किया जाएगा. इसके अलावा हरियाणा में 3 जनवरी से 15-18 साल के बच्चों का टीकाकरण शुरू हो जाएगा जिनकी संख्या करीब 15.4 लाख है.

अधिक पढ़ें ...

    चंडीगढ़. हरियाणा सरकार (Haryana Government) इस वक्‍त हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर (Health Infrastructure) पर खासा फोकस कर रही है. सीएम मनोहर लाल खट्टर ने कहा, ‘हमारा लक्ष्य है कि हर जिले में हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर को बढ़ाने के लिए एक मेडिकल कॉलेज बने. 19 जिलों में या तो मेडिकल कॉलेज बन गए या बन रहे हैं. वहीं, कुछ की योजना बन गई है और कुछ की घोषणा हुई है. अभी 3 जिले बाकी हैं, आने वाले साल (2022-23) में उनकी भी घोषणा होगी.

    इसके साथ सीएम ने केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के साथ प्री-बजट बैठक को लेकर कहा कि किसानों की ऋण की सीमा 2 करोड़ है उसे भी बढ़ाया जाए ताकि कुछ और बड़े खाद्य प्रसंस्करण परियोजना लगाए जा सकें. वहीं, एमएसएमई (MSME) का भी बहुत बड़ा विस्तार हो रहा है इसमें निर्यात के लिए कुछ सब्सिडी का निर्धारण किया जाए. वहीं, उन्‍होंने कहा कि राखीगढ़ी के लिए अलग से बजट का प्रावधान किया जाए.

    नाबार्ड से शहरी योजनाओं को मिले मदद
    हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि एनसीआर योजना बोर्ड में जैसे नाबार्ड ग्रामीण बुनियादी ढांचे के लिए 2.75 फीसदी ब्याज पर कर्ज देता है. इसी प्रकार से शहरी बुनियादी ढांचे के विकास पर भी एनसीआर योजना बोर्ड 2.75 फीसदी पर हमको ऋण उपलब्ध कराए, ताकि हम एनसीआर में और तेजी गति से बुनियादी ढांचे को बढ़ा सकें.

    सीएम ने कही ये बात
    मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा, ‘बैठक में हमने सुझाव दिए कि एफआरबीएम की सीमा 2020-2021 में 5 फीसदी की गई थी इसे हमने 2.09 फीसदी पर बनाए रखा हुआ है. आर्थिक स्थिति को ऊपर उठाने के लिए हमने अलग से रणनीति बनाई है. इसके साथ केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता में हुई प्री बजट बैठक में उन्‍होंने कहा कि GST का शेयर केवल उपभोग व उपयोग पर ही मिलता है उत्पादन पर नहीं मिलता. यह उत्पादन पर भी मिलना चाहिए.

    3 जनवरी से 15-18 साल के बच्चों का टीकाकरण
    वहीं, राज्य के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा है कि हरियाणा में 3 जनवरी से 15-18 साल के बच्चों का टीकाकरण शुरू हो जाएगा जिनकी संख्या करीब 15.4 लाख है. टीकाकरण सेंटर पर बच्चों की अलग कतार लगाई जाएगी और उनका टीकाकरण करने के लिए अलग स्टाफ होगा. बच्चों को कोवैक्सिन ही लगाई जाएगी.

    Tags: Haryana Government, Haryana news, Manohar Lal Khattar

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर