लाइव टीवी

Coronavirus: हरियाणा के विधायकों की सैलरी में एक साल तक 30% कटौती, पूर्व MLA भी देंगे सहयोग
Chandigarh-City News in Hindi

News18 Haryana
Updated: April 9, 2020, 11:06 AM IST
Coronavirus: हरियाणा के विधायकों की सैलरी में एक साल तक 30% कटौती, पूर्व MLA भी देंगे सहयोग
वित्तीय संकट पर सभी दल एकजुट

सभी राजनीतिक दलों के नेताओं ने एकमत होकर कोरोना रिलीफ फंड (Corona Relief Fund) में आर्थिक सहयोग देने का भरोसा दिलाया है. विधायकों के वेतन (Salary) से एक साल तक हर माह 30 फीसदी की कटौती होगी

  • Share this:
चंडीगढ़. हरियाणा के विधायकों ने सांसदों की तर्ज पर एक वर्ष के लिए अपने मासिक वेतन में 30 प्रतिशत की कटौती करने और पूर्व विधायकों ने अपनी पेंशन में से एक महीने की पेंशन का अंशदान देने की स्वीकृति दी है. सर्वदलीय बैठक में सभी दलों के नेताओं के बीच सहमति बनी जिसके बाद ये फैसला लिया गया. कोरोना की वजह से हुए लॉकडाउन (Lockdown) के चलते राज्य में भारी आर्थिक संकट पैदा हो गई है. अप्रैल माह तक करीब नौ हजार करोड़ रुपये के नुकसान का अनुमान है. मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) द्वारा बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में कोरोना रिलीफ फंड में आर्थिक सहयोग दिए जाने के मुद्दे पर चर्चा हुई.

बैठक में कांग्रेस की ओर से पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा, प्रदेश अध्यक्ष कुमारी सैलजा, जेजेपी की ओर से डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला और प्रदेश अध्यक्ष सरदार निशान सिंह, बीजेपी की ओर से प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला, गृह मंत्री अनिल विज, आईएनएलडी की ओर से अभय सिंह चौटाला और निर्दलीय विधायकों की ओर से जेल मंत्री रणजीत सिंह चौटाला और हलोपा की ओर से विधायक गोपाल कांडा शामिल हुए.

सीएम मनोहर लाल खट्टर ने दी जानकारी



मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने जानकारी दी कि सभी मंत्रियों, राज्यपाल, स्पीकर, डिप्टी स्पीकर और गवर्नर के स्वैच्छिक कोटे से 51 करोड़ रुपये की राहत राशि प्रदान करने का निर्णय लिया जा चुका है. बीजेपी पहले ही एक करोड़ रुपये की राशि दे चुकी है, जबकि जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) ने सबसे पहले 51 लाख रुपये की राशि राहत कोष में दी थी. मुख्यमंत्री ने प्रस्ताव दिया कि राजनीतिक दल और भी आर्थिक सहयोग करें. साथ ही विधायकों के वेतन की 30 फीसदी राशि एक साल तक के लिए काटी जाए, साथ ही पूर्व विधायकों की पेंशन राशि में भी कटौती की जाए.



बैठक में बनी सहमति

विधायकों के वेतन में एक साल के लिए 30 फीसदी कटौती की सहमति बन चुकी है, जबकि पूर्व विधायकों की पेंशन में कटौती पर अंतिम सहमति बननी बाकी है. पूर्व विधायक अपनी एक माह की पेंशन देने की घोषणा पहले ही कर चुके हैं. कुछ ऐसे पूर्व विधायकों से सहमति ली जानी बाकी है, जो पार्टी स्तर पर चुनकर नहीं आए हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 9, 2020, 10:43 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading