Black Fungus in Haryana: हरियाणा में ब्लैक फंगस से 5 की मौत, 33 नए मरीज मिले

ब्लैक फंगस के तेजी से बढ़ रहे हैं मामले. (फाइल फोटो: PTI)

ब्लैक फंगस के तेजी से बढ़ रहे हैं मामले. (फाइल फोटो: PTI)

Black Fungus in Haryana: ब्लैक फंगस पीड़ितों के उपचार को लेकर प्रदेश सरकार की तैयारियां कम पड़ती दिखने लगी हैं.

  • Share this:

चंडीगढ़. कोरोना की दूसरी लहर का इन दिनों में व्यापक स्तर पर असर देखने को मिल रहा हैं. रिकवर हो चुके मरीज भी ब्लैक फंगस (Black Fungus) की चपेट में आ रहे हैं. हरियाणा (Haryana) में पिछले 24 घंटे में ब्लैक फंगस के 33 नए मरीज मिले हैं. ब्लैक फंगस पीड़ितों का कुल आंकड़ा 454 हो चुका है. वहीं झज्जर में इंजेक्शन मिलने में देरी के चलते रविवार रात सर्जरी से पहले ही एक मरीज की मौत हो गई. पानीपत, सिरसा, फतेहाबाद और हिसार में भी 1-1 मरीज ने दम तोड़ा. प्रदेश में कल 5 मरीजों की ब्लैक फंगस से मौत हो गई.

हरियाणा के झज्जर जिले में ब्लैक फंगस के 5 मरीजों में 3 की मौत हो चुकी है. जबकि, दो झज्जर के मरीजों सहित कुल छह लोग अभी वहां उपचाराधीन है. बता दें कि जिन तीन लोगों की मौत हुई है, उनकी कोविड से जुड़ी हिस्ट्री है. दो मरीजों को डायबटिज थी. कोविड में उपचार के दौरान तीनों को ऑक्सीजन भी दी गई और स्टेरॉयड भी.

बता दें कि मरीजों की लगातार बढ़ती संख्या और इंजेक्शनों की कमी के चलते यह बीमारी लगातार जानलेवा हो रही है. राज्य सरकार ने केंद्र से 12 हजार इंजेक्शन की डिमांड कर रखी है. हाल ही में 400 इंजेक्शन की खेप ही मिली थी. दूसरी तरफ, प्रदेश में ब्लैक फंगस के इलाज के लिए अधिसूचित 11 मेडिकल कॉलेजों में से 9 में आरक्षित बेड खाली पड़े हैं.

गुरुग्राम में 156 व फरीदाबाद में 55 फंगस के मरीज हैं. फिर भी यहां के तीन मेडिकल कॉलेज में 35 बेड खाली हैं. ज्यादातर मरीज निजी अस्पतालों में इलाज करा रहे हैं. निजी अस्पताल वैकल्पिक दवाओं से इलाज कर रहे हैं और सर्जरी भी हो रही है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज