प्रियंका और राहुल पर विज का हमला, पूछा- 72 साल में मजदूर, मजदूर ही क्यों रहा?
Chandigarh-City News in Hindi

प्रियंका और राहुल पर विज का हमला, पूछा- 72 साल में मजदूर, मजदूर ही क्यों रहा?
अनिल विज ने प्रियंका गांधी पर साधा निशाना

अनिल विज (Anil vij) ने अपने ट्वीट में लिखा है कि मजदूरों के पलायन पर बहुत चर्चा हो चुकी परन्तु असली प्रश्न (Question) यह है कि 72 साल की आजादी के बाद भी मजदूर मजदूर ही क्यों है? उसके पास खाने के लिये रोटी क्यों नहीं?

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
चंडीगढ़. हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज(Home and Health Minister Anil Vij) ने गांधी परिवार पर फिर हमला बोला है. अनिल विज ने ट्वीट कर राहुल और प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) पर निशाना साधा है. विज ने अपने ट्वीट में लिखा है कि मजदूरों के पलायन पर बहुत चर्चा हो चुकी परन्तु असली प्रश्न यह है कि 72 साल की आजादी के बाद भी मजदूर, मजदूर ही क्यों है? उसके पास खाने के लिये रोटी क्यों नही ? पैर में डालने के लिए चप्पल क्यों नहीं? इस 72 साल में से 50 साल तो कांग्रेस का ही राज रहा है.





विज ने अपने दूसरे ट्वीट में लिखा कि फिर राहुल गांधी, प्रियंका वाडरा मजदूरों पर झूठी सहानुभूति दिखा कर ड्रामा क्यों कर रहे? बता दें कि इससे पहले भी विज न कहा था कि देश के अंदर पांच दशक तक राज करने वाले गांधी परिवार ने इस देश के गरीबों व प्रवासी मजदूरों के लिए ढंग से काम किया होता, तो यूपी के लोग राहुल गांधी को लोकसभा चुनावों में करारी हार का मजा नहीं चखाते. राहुल बताएं कि यूपी के लोगों ने उन्हें पूरी तरह से क्यों नकार दिया.



प्रचार के लिए बनाई डॉक्यूमेंट्री

विज ने कहा कि कोरोना से देश को लड़ते दो महीने हो गए और दो महीनों में इन्होंने कोई चिंता नहीं की. दूसरे प्रदेशों को तो छोड़ दो, जिन प्रदेशों में इनका राज है वहां मजदूर तड़पते फिर रहे लेकिन आज तक इन्होंने मजदूरों की सुध तक नहीं ली. विज ने कहा कि हमको तो लग रहा था कि वहां ये मजदूरों का दुख दर्द जानने के लिए गए हैं. लेकिन आज जब इन्होंने एक वीडियो जारी की तो पता चला कि ये तो अपने प्रचार के लिए डॉक्यूमेंट्री बनाने के लिए गए थे.

शूटिंग करने के लिए रचा ड्रामा

विज ने कहा कि डॉक्यूमेंट्री बना कर आज कांग्रेस का प्रचार किया जा रहा है. अनिल विज ने कहा कि अभी तक तो ये भी स्पष्ट नहीं हुआ है कि जिनसे इन्होंने बात की वो वाकई में मजदूर हैं. वो मजदूर थे या इनके द्वारा बिठाए गए कलाकार थे. विज ने कहा कि ऐसा प्रतीत होता है कि ये शूटिंग करने के लिए ये सारा ड्रामा रचा गया है और डॉक्यूमेंट्री में मजदूर वही बोलेंगे जो उन्हें स्क्रिप्ट में बताया जाता है.

ये भी पढ़ें- COVID-19 Update: चंडीगढ़ में कोरोना से चौथी मौत, 3 दिन की बच्ची ने तोड़ा दम
First published: May 25, 2020, 11:29 AM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading